राजस्थान के पूर्व सीएम जगन्नाथ पहाड़िया का कोरोना से निधन, गहलोत ने जताया दुख, सरकारी कार्यालयों में अवकाश

राजस्थान के पूर्व राज्यपाल और पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ पहाडिय़ा का बुधवार को 93 वर्ष की उम्र में कोरोना के कारण निधन हो गया। पूर्व सीएम पहाडिय़ा के सम्मान में एक दिन का राजकीय शोक रहेगा एवं राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा और सभी सरकारी कार्यालयों में आज अवकाश रहेगा। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिग्गज कांग्रेसी नेता जगन्नाथ पहाडिय़ा के निधन पर दुख जताया है।

जानकारी हो कि कांग्रेसी नेता और राजस्थान के पहले दलित मुख्यमंत्री जगन्नाथ पहाडिय़ा का बुधवार रात को गुड़गांव के एक अस्पताल में कोरोना के कारण निधन हो गया, अस्पताल में कई दिनों से कोरोना का इलाज चला रहा था। सभी सरकारी कार्यालयों में 20 मई का अवकाश रहेगा।

वहीं, पहाड़िया के निधन पर सीएम अशोक गहलोत और पूर्व डिप्टी सीएम सचिन पायलट समेत विभिन्न नेताओं ने दुख जताया है। अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा कि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री जगन्नाथ पहाडिय़ा जी के निधन की खबर बेहद दुखद है। श्री पहाडिय़ा ने मुख्यमंत्री के रूप में, राज्यपाल के रूप में, केंद्रीय मंत्री के रूप में लम्बे समय तक देश की सेवा की, वे देश के वरिष्ठ नेताओं में से थे। पहाड़िया हमारे बीच से कोविड की वजह से चले गए। उनके निधन से मुझे बेहद आघात पहुंचा है। उनके जाने से मुझे व्यक्तिगत क्षति हुई है, प्रारंभ से ही उनका मेरे प्रति बहुत स्नेह था। ईश्वर से प्रार्थना है कि शोकाकुल परिजनों को इस कठिन समय में संबल दें। दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करें।

जानकारी हो कि पहाड़िया राजस्थान के पहले दलित मुख्यमंत्री थे। वे बाद में बिहार और हरियाणा के राज्यपाल भी रहे। पहाड़िया राजस्थान के सीएम रहे थे। उन्होंने प्रदेश में संपूर्ण शराबबंदी लागू की थी। वे 1957, 1967, 1971 और 1980 में चार बार सांसद रहे। वहीं 1980, 1985, 1990 और 2003 में विधायक चुने गए थे।

राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ पहाड़िया के निधन पर राजस्थान में गुरुवार को 1 दिन का राजकीय शोक  रहेगा। प्रदेश में गुरुवार को राष्ट्रीय ध्वज आधा झुका रहेगा। सभी सरकारी कार्यालयों में अवकाश रहेगा  मंत्रिपरिषद की बैठक में पहाड़िया के निधन पर शोकाभिव्यक्ति होगी। 

जानकारी हो कि राजस्थान में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 9849 नए पॉजिटिव केस मिलने के साथ ही 139 पीड़ितों की मौत हुई है। प्रदेश में अब तक आठ लाख 89 हजार 513 कुल संक्रमित मिलने के साथ ही 7219 लोगों की मौत हुई है। इसी बीच, सरकार ने प्रदेश में धारा 144 की अवधि 21 जून तक के लिए बढ़ा दी है। इस संबंध में गृह विभाग ने बुधवार को अधिसूचना जारी की। प्रदेश में सबसे पहले 22 अप्रैल को 21 मई तक के लिए धारा 144 लागू की गई थी। इसकी अवधि समाप्त होने से दो दिन पहले ही सरकार ने इसे 21 जून तक के लिए बढ़ा दिया। इसके तहत किसी भी स्थान पर पांच या इससे अधिक लोग एकत्रित नहीं हो सकेंगे। सरकार द्वारा लागू लॉकडाउन 24 मई सुबह पांच बजे तक जारी रहेगा।