एएनएमएमसीएच में भर्ती मरीजों के परिजन घर से ही वीडियो कॉल कर ले सकते हैं हालचाल


-जारी किए गए तीन व्हाट्सएप नंबर पर परिजनों को बताना होगा मरीज से रिश्ता

सूरज कुमार

गया।डीएम अभिषेक सिंह ने बुधवार को कोविड-19 से संबंधित आपदा प्रबंधन समूह की बैठक की।  बैठक के दौरान उन्होंने बताया कि गया के अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल में भर्ती मरीजों के परिजन वीडियो कॉल के माध्यम से हालचाल ले सकते हैं। इसके लिए तीन मोबाईल नंबर जारी कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि एएनएमएमसीएच में भर्ती मरीजो के परिजन वीडियो कॉल के माध्यम से अपने मरीजो की स्थिति के संबंध में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। इसके लिए एएनएमएमसीएच के एमसीएच ब्लॉक में तीनो मंज़िल पर लगे टेबलेट के माध्यम से मरीज के परिजन अपने मरीज के इलाज, खानपान, दवा तथा स्थिति के संबंध में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इस सम्बंध में 3 व्हाट्सएप नंबर जारी किए गए हैं।

 प्रथम मंजिल के लिए - 9471894156

 द्वितीय मंजिल के लिए - 9471889463 

तृतीय मंजिल के लिए - 9471894312

 प्रत्येक मंजिल पर पारामेडिकल स्टाफ रहेंगे। जिनसे वीडियो कॉल करके मरीज का नाम, बेड संख्या बताकर उनसे बात करने का अनुरोध किया जाएगा। साथ ही मरीज से बात करने वाले को यह भी बताना अनिवार्य होगा कि भर्ती मरीज से उनका क्या संबंध है। 

डीएम अभिषेक सिंह कोविड के बचाव एवं सुरक्षा के संबंध में तथा ज़िले के विभिन्न अस्पतालों में ऑक्सीजन की उपलब्धता, बेड की उपलब्धता, मरीजो का समुचित ईलाज़, ई-पास की सुविधा, सामुदायिक किचन की व्यवस्था, ग्रामीण क्षेत्रों में हाई रिस्क जोन की टेस्टिंग की सुविधा बढ़ाने सहित एएनएमएमसीएच की आवश्यकता एवं समस्याओं एवं भर्ती मरीजो के परिजन द्वारा अपने मरीज के संबंध में जानकारी की सुविधा के बारे में विस्तार से समीक्षा की। डीएम ने निदेश दिया कि ग्रामीण क्षेत्रों में हाई रिस्क जोन में टेस्टिंग को बढ़ाने की आवश्यकता है। डीएम ने निदेश दिया कि प्राथमिकता स्तर पर कन्टेनमेंट जोन के अंतर्गत हाई रिस्क के लोगों का शत प्रतिशत जांच कराना सुनिश्चित करें।

बैठक में एएनएमएमसीएच की समस्याओं एवं आवश्कता के संबंध में विचार विमर्श किया गया। प्रभारी अधीक्षक ने बताया कि एमसीएच में लिफ्ट की आवश्यकता है ताकि मरीजो एवं स्टाफ को सुविधा हो सके। साथ ही टेस्टिंग के कार्य को और अधिक तेजी से करने के लिए लैब टेक्नीशियन की भी आवश्कता है। डीएम ने निदेश दिया कि एमसीएच में लिफ्ट लगवाने तथा लैब टेक्नीशियन की कमी को पूरा करने हेतु त्वरित कार्रवाई करे। 

 बैठक में विभिन्न सरकारी एवं निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की उपलब्धता की समीक्षा की गई। बताया गया कि अस्पताल में फिलहाल ऑक्सीजन की कोई कमी नहीं है। डीएम ने अधीक्षक, सिविल सर्जन एवं नोडल पदाधिकारी को निदेश दिया कि ऑक्सीजन की उपलब्धता के संबंध में बिल्कुल सजग एवं संवेदनशील रहे। 

बैठक में अपर समाहर्त्ता, एएसपी, सहायक समाहर्त्ता, अधीक्षक/प्राचार्य एएनएमएमसीएच, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी,रामनिरंजन चौधरी, नजारत उप समाहर्त्ता, शैलेश कुमार, जिला परिवहन पदाधिकारी,जनार्दन प्रसाद,  डीपीएम स्वास्थ्य, विशेष कार्य पदाधिकारी, वरीय उप समाहर्त्तागण, ज़िला जन सम्पर्क पदाधिकारी, अपर अनुमण्डल पदाधिकारी,राजीव रौशन, सदर सहित अन्य पदाधिकारी एवं चिकित्सक उपस्थित थे।