Night Curfew In Delhi ! नाइट कर्फ्यू लगाने के प्रस्ताव पर विचार कर रही है अरविंद केजरीवाल सरकार

Night Curfew In Delhi ! राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में बढ़ते कोरोना के मामलों के मद्देनजर रात में कर्फ्यू लगाने के प्रस्ताव पर आम आदमी पार्टी सरकार विचार कर रही है। दिल्ली सरकार से जुड़े एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने कहा कि रात के कर्फ्यू लगाने का प्रस्ताव विचाराधीन है। विवरण में कर्फ्यू की समयावधि भी शामिल है, जो कि रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक हो सकती है। इस बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को कहा था कि दिल्ली में कोरोना के संक्रमण की चौथी लहर चल रही है, लेकिन लॉकडाउन लगाने पर अभी विचार नहीं किया जा रहा है। उन्होंने कहा था कि हम लॉकडाउन लगाने पर विचार नहीं कर रहे हैं। हम स्थिति पर करीबी नजर रख रहे हैं और इस तरह का निर्णय उचित सार्वजनिक परामर्श के बाद ही लिया जाएगा।

लॉकडाउन लगाने पर फिलहाल विचार नहीं कर रही है AAP सरकार

यहां पर बता दें कि पिछले सप्ताह दिल्ली सरकार के मुखिया अरविंद केजरीवाल ने लॉकडाउन लगाने की संभावना को पूरी तरह से खारिज तो नहीं किया था, लेकिन यह भी कहा था कि फिलहाल इसकी जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा था कि लॉकडाउन लगाने की नौबत आई तो बातचीत कर इस पर फैसला लिया जाएगा।

गौरतलब है कि दिल्ली में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। चार माह बाद संक्रमण दर 5.54 फीसद पहुंच गई है, जो 125 दिन में सबसे अधिक है। इसके पहले पिछले एक दिसंबर को संक्रमण दर 6.85 फीसद थी। अब एक बार फिर संक्रमण दर साढ़े पांच फीसद के पार पहुंच गई। इस वजह से दिल्ली में कोरोना बेकाबू हो गया है।वहीं, बताया जा रहा है कि रविवार को कम सैंपल की जांच होने के कारण सोमवार को 3,548 नए मामले आए। संक्रमण बढ़ने के कारण सक्रिय मरीजों की संख्या 14,500 से अधिक हो गई है। इस वजह से अस्पतालों में मरीजों का दबाव बढ़ रहा है। स्थिति यह है कि पिछले 24 घंटे में 15 मरीजों की मौत हो गई। इस वजह से पिछले पांच दिन में कोरोना के कारण 69 मरीजों की मौत हुई है। फिर भी बचाव के नियमों का लोग सख्ती से पालन नहीं कर रहे हैं। बाजारों में अब भी लोग बगैर मास्क के देखे जा रहे हैं।

स्वास्थ्य विभाग के अनुसार दिल्ली में अब तक छह लाख 79 हजार 962 मामले आ चुके हैं, जिसमें से 17,532 मामले पिछले पांच दिनों में आए हैं। पिछले 24 घंटे में 2,936 मरीज ठीक हुए हैं। इस वजह से अब तक छह लाख 54 हजार 277 मरीज ठीक हो चुके हैं। इससे मरीजों के ठीक होने की दर 96.22 फीसद है। वहीं मृतकों की कुल संख्या 11,096 हो गई है। इस वजह से मृत्यु दर 1.63 फीसद है। मौजूदा समय में 14,589 सक्रिय मरीज हैं। इनमें से 2,975 मरीज अस्पतालों में भर्ती हैं। वहीं कोविड केयर सेंटर में 34 व कोविड हेल्थ सेंटर में 49 मरीज भर्ती हैं। इसके अलावा 7,983 मरीज होम आइसोलेशन में रहकर अपना इलाज करा रहे हैं।