Bengal Chunav Hinsa: आठवें चरण के चुनाव में भी हिंसा, मुर्शिदाबाद में माकपा कार्यकर्ता की हत्या, भाजपा प्रत्याशी पर फेंका गया बम

बंगाल में सुबह से जारी आखिरी चरण के मतदान में भी हिंसा की खबरें सामने आई हैं।राज्य में जारी आठवें व आखिरी चरण के मतदान के बीच मुर्शिदाबाद जिले के डोमकल में तृणमूल उम्मीदवार की गाड़ी से टक्कर लगने के बाद माकपा के दो कार्यकर्ता गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें मुर्शिदाबाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां इनमें से एक को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। इस घटना के बाद तनाव फैल गया। स्थानीय माकपा नेताओं का आरोप है कि तृणमूल द्वारा जानबूझकर गाड़ी से कुचल कर उनके कार्यकर्ता की हत्या की गई है। हालांकि तृणमूल ने इन आरोपों से इन्कार किया है। 

मुर्शिदाबाद में माकपा कार्यकर्ता की हत्या

इधर, मुर्शिदाबाद जिले में चुनाव शुरू होने से पहले एक माकपा कार्यकर्ता की कथित तौर पर हत्या कर दी गई। स्थानीय नेताओं ने इसके लिए कांग्रेस व तृणमूल कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है। इस घटना के विरोध में स्थानीय माकपा कार्यकर्ताओं ने जमकर विरोध प्रदर्शन भी किया है। मौके पर अतिरिक्त पुलिस बल को भेजा गया है। दूसरी ओर, बीरभूम जिले के मयूरेश्वर में भाजपा के पोलिंग एजेंट को मतदान केंद्र के अंदर घुसने से रोक दिया गया। आरोप है कि बड़ी संख्या में तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता एकत्रित हो गए थे जिसकी वजह से तनावपूर्ण हालात बने हुए हैं। इधर, कोलकाता के काशीपुर-बेलगछिया विधानसभा क्षेत्र जहां से मिथुन चक्रवर्ती मतदाता हैं वहां भारतीय जनता पार्टी के पोलिंग एजेंट को जेके मित्रा रोड में बने मतदान केंद्र में बैठने से रोका गया। पार्टी ने इसको लेकर शिकायत दर्ज कराई है।

डोमकाल इलाके में भी बमबाजी 

दूसरी ओर मुर्शिदाबाद और मालदा जिले में भी छिटपुट हिंसा की खबर है। मुर्शिदाबाद के डोमकाल इलाके में भी बमबाजी की खबर है। यह इलाका हमेशा से राजनीतिक व चुनावी हिंसा के लिए कुख्यात रहा है। उत्तर कोलकाता में महाजाति सदन सभागार के पास बम फेंकने की खबर है। बताया जा रहा है कि जोड़ासांको विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी मीणा देवी पुरोहित की गाड़ी को लक्ष्य कर चितरंजन एवेन्यू में महाजाति सदन के निकट बम फेंके गए। इसमें भाजपा प्रत्याशी बाल-बाल बच गईं। उन्हें कोई नुकसान की खबर नहीं है। चुनाव आयोग ने घटना की विस्तृत जानकारी मांगी है।

बीरभूम के सिउड़ी और नानूर में बमबाजी

बीरभूम जिले के सिउड़ी और नानूर में भी बमबाजी हुई है। बताया जा रहा है कि तृणमूल कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी के बूथ एजेंटों को धमकाया है। सिउड़ी में 281 नंबर बूथ पर बम विस्फोट किए गये हैं। पिस्तौल दिखाकर वोटरों को डराने की कोशिश हो रही है। ऐसा आरोप भाजपा ने लगाया है। वहीं, तृणमूल कांग्रेस ने आरोपों को खारिज कर दिया है। गौरतलब है कि इस जिले में तृणमूल कांग्रेस के बाहुबली नेता व पार्टी के जिला अध्यक्ष अनुब्रत मंडल का खासा प्रभाव है। हालांकि चुनाव आयोग ने उन्हें नजरबंद कर दिया है। 

भाजपा एजेंट को बूथ में नहीं बैठने दिया, उम्मीदवार पहुंचे

बीरभूम जिला के मयूरेश्वर प्रजापति स्कूल स्थित बूथ में भाजपा एजेंट को नहीं बैठने दिया जा रहा। भाजपा उम्मीदवार खुद बूथ पर पहुंच गए हैं।

पीएम मोदी ने कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए वोट डालने की अपील की

दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बंगाल विधानसभा चुनाव के आठवें और अंतिम चरण के लिए गुरुवार को 4 जिलों की 35 सीटों पर चल रहे मतदान में लोगों से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए वोट डालने की अपील की है। पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा, "पश्चिम बंगाल में आज अंतिम चरण का चुनाव है। मैं लोगों से कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अपना वोट डालने और लोकतंत्र के त्योहार में शामिल होने की अपील करता हूं।"