Kolkata Fire News: कोलकाता में बहुमंजिली इमारत में भयावह आग, नौ की मौत; पीएम मोदी ने किया मुआवजे का ऐलान

कोलकाता महानगर के स्ट्रांड रोड स्थित न्यू कोलाघाट बिल्डिंग के 13 व 12वें माले पर सोमवार शाम भयावह आग लग गई। उक्त इमारत में पूर्व व दक्षिण पूर्व रेलवे के कार्यालय हैं और भूतल पर रेलवे का कंप्यूटरीकृत टिकट आरक्षण केंद्र है। दमकल के 15 इंजनों ने कड़ी मशक्कत के बाद  देर रात आग पर काबू पाया। इस अग्निकांड में नौ लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में चार दमकल कर्मी, एक रेलवे पुलिस कर्मी, एक एएसआइ तथा एक अन्य व्यक्ति शामिल हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रत्येक मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपए आर्थिक मदद तथा परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है। इस अग्निकांड के कारण पूर्व रेलवे की ऑनलाइन बुकिंग तथा उत्तर पूर्व रेलवे की टिकट बुकिंग पूरी तरह बाधित हो गई है।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कोलकाता में दुखद आग के कारण अपनी जान गंवाने वालों के परिजनों के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से 2-2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि की मंजूरी दी है। गंभीर रूप से घायल लोगों को 50,000 रुपये दिए जाएंगे। केंद्रीय रेल मंत्री पीयूष गोयल ने भी इस बेहद दुखद घटना में मरने वाले 9 मृतकों के परिवारों के प्रति गहरा संवेदना व्‍यक्‍त की है। 

प्राप्त जानकारी के मुताबिक शाम के करीब 6:10 बजे आग लगी, जिससे इमारत में अफरातफरी मच गई। इमारत को तुरंत खाली कराया गया। एहतियातन आसपास की कई इमारतों को भी खाली कराया गया। स्ट्रांड रोड को भी वाहनों के आवागमन के लिए बंद कर दिया गया। दमकल विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि 13 व 12वें तल्ले में में आग लगी। उक्त इमारत में पूर्व व दक्षिण पूर्व रेलवे के कार्यालय हैं और भूतल पर रेलवे का कंप्यूटरीकृत टिकट आरक्षण केंद्र है। आग सर्वर रूम तक पहुंच गई है। आग बुझाने के लिए हाइड्रोलिक लैडर भी लाया गया। दमकल के 15 इंजनों ने कड़ी मशक्कत के बाद देर रात आग पर काबू पाया।

इस अग्निकांड में सात लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में चार दमकल कर्मी, एक रेलवे पुलिस कर्मी, कोलकाता के हेयर स्ट्रीट थाने के एक एएसआइ तथा एक अन्य व्यक्ति (पहचान अभी तक नहीं हो पाई है) शामिल हैं। पता चला है कि लिफ्ट में फंसकर झुलसने से चार दमकल कर्मियों की मौत हुई है। दो और लोगों के मरने की आशंका व्यक्त की गई है जो इमारत में अभी तक फंसे हैं। दो दमकल कर्मियों को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटनास्थल पर पांच एंबुलेंस पहुंचे।

खबर पाकर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, शहरी विकास मंत्री फिरहाद हकीम तथा अग्निशमन मंत्री सुजीत बोस भी मौके पर पहुंचे। अग्निशमन मंत्री ने इस अग्निकांड केेेे जांच के आदेश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने प्रत्येक मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपए आर्थिक मदद तथा परिवार के एक व्यक्ति को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है।

ADVERTISEMENT