प्रशिक्षण के दौरान नवपदस्थापित एएनएम को मिले चिकित्सीय किट


-जिला स्वास्थ्य समिति की ओर से 20 एएनएम को दिया गया किट

-ग्लूकोमीटर, थर्मामीटर व अन्य चिकित्सीय उपकरणों से किया गया लैस

युवा शक्ति संवाददाता

----------------------

गया। राष्ट्रीय शहरी स्वास्थ्य मिशन के तहत शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में नवपदस्थापित एएएनएम के चार दिवसीय आवासीय प्रशिक्षण के तीसरे दिन उन्हें यह प्रशिक्षण दिया गया।जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी डॉ एमई हक ने एएनएम को यह प्रशिक्षण दिया। इस प्रशिक्षण के दौरान जिला स्वास्थ्य समिति की ओर से गया जिला के शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर नवपदास्थापित 20 एएनएम को चिकित्सीय सामग्रियों का एक किट भी प्रदान किया गया। इस प्रशिक्षण में जिला की 40 एएनएम हिस्सा ले रहीं हैं। इस मौके पर क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबंधक पीयूष रंजन, जिला स्वास्थ्य समिति के डीपीएम नीलेश कुमार, केयर इंडिया के टीम लीड शशि रंजन व अन्य अधिकारी मौजूद थे। 

जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण पदाधिकारी ने बताया प्रशिक्षण के दौरान दिये गये किट में स्टेथोस्कोप, ब्लड शुगर जांचने की मशीन ग्लूकोमीटर, डिजिटल घड़ी सहित हीमोग्लोबीन, ब्लड प्रेशर व वजन जांचने की अन्य उपकरण जैसे थर्मामीटर व टॉर्च आदि शामिल हैं। इनकी जरूरत एएनएम को चिकित्सीय प्रकियाओं के तहत होती है, इसलिए उन्हें यह दिया गया है।

नर्सिंग से जुड़ी मौलिक देखरेख संबंधी प्रशिक्षण जरूरी 

क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबंधक पीयूष रंजन ने बताया स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए ऐसे प्रशिक्षण का महत्व और अधिक बढ़ जाता है। प्रशिक्षण से एएनएम नई चिकित्सीय विधि से अपडेट होती हैं। बुधवार को इस प्रशिक्षण के दौरान एएनएम को प्रसव पूर्व जांच सहित गैर संचारी रोगों जैसे हाइपरटेंशन यानी बीपी, ब्लड शुगर सहित टीबी व अन्य वेक्टर जनित रोग के विषय मे जानकारी देकर इसकी रोकथाम और उपचार संबंधित आवश्यक प्रशिक्षण दिया गया है। उन्होंने बताया इस प्रशिक्षण के दौरान एएनएम नर्सिंग से संबंधित मौलिक देखरेख आदि जानकारी प्राप्त करेंगी।

ADVERTISEMENT