तृणमूल प्रवक्ता कुणाल घोष ने भाजपा नेता शोभन चटर्जी के खिलाफ 10 करोड़ रुपये की मानहानि का मामला किया दायर

तृणमूल कांग्रेस प्रवक्ता कुणाल घोष ने भाजपा नेता शोभन चटर्जी के खिलाफ 10 करोड़ रुपये की मानहानि का मामला दायर किया है। कुणाल ने कहा कि शोभन उनपर व्यक्तिगत हमले कर रहे हैं। वे बेहद अशालीन और अराजनीतिक शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं। वे उन्हें इनका राजनीतिक तौर पर जवाब दूंगा।गौरतलब है कि कुछ दिन पहले शोभन ने कुणाल की तुलना पॉकेटमार से की थी। उन्होंने यह भी कहा था कि कुणाल सारधा ग्रुप के प्रमुख सुदीप्त सेन के लिए दलाल के रूप में काम करते थे।

कुणाल इससे पहले भी शोभन पर उन्हें 'अपराधी' कहने का आरोप लगाते हुए कानूनी नोटिस भेज चुके हैं।गौरतलब है कि बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले राजनीतिक दलों, विशेषकर सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और मुख्य विपक्षी दल की भूमिका में नजर आ रही भाजपा में आरोप-प्रत्यारोप का दौर तेज हो गया है। दोनों दलों के नेता एक-दूसरे पर तीखे शब्दबाण चला रहे हैं। अशालीन टिप्पणियां भी खूब की जा रही हैं। इसे लेकर कानूनी नोटिस भेजने का सिलसिला भी तेज हो गया है।

हाल में दोनों दलों के नेताओं की तरफ से एक-दूसरे को कई मानहानि नोटिस भेजे जा चुके हैं। इससे पहले तृणमूल सांसद अभिषेक बनर्जी ने पार्टी छोड़कर भाजपा में शामिल हुए सुवेंदु अधिकारी पर खेजुरी की सभा से उनके खिलाफ अशालीन टिप्पणी करने का आरोप लगाते हुए उन्हें मानहानि का नोटिस भेजा था।

अभिषेक के अधिवक्ता की तरफ से भेजे गए इस नोटिस में उनके मुवक्किल के लिए सुवेंदु द्वारा 'रंगदार' जैसे आपत्तिजनक शब्द का प्रयोग करने का आरोप लगाया गया था। सुवेंदु से अपना बयान वापस लेते हुए बिना किसी शर्त के माफी मांगने को कहा गया है, अन्यथा उनके खिलाफ कानूनी कदम उठाने की बात कही गई है। इससे पहले बंगाल भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष अभिषेक बनर्जी पर उन्हें 'गुंडा' कहने का आरोप लगाते हुए कानूनी नोटिस भेज चुके हैं तो अभिषेक बनर्जी ने भी उनके खिलाफ अशालीन टिप्पणी के लिए केंद्रीय मंत्री व भाजपा सांसद बाबुल सुप्रियो को नोटिस भेजा था। 

ADVERTISEMENT