ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन शाखा गया के प्रांगण में 72 वां गणतंत्र दिवस धूमधाम से मनाया गया


गया। ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन शाखा गया के प्रांगण में 72 वां गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर मंगलवार को गया शाखा के अध्यक्ष अनिल कुमार सिन्हा द्वारा ध्वजारोहण किया गया। इस अवसर पर अनिल कुमार सिन्हा ने कहा कि कर्मचारियों की समस्याओं के समाधान के लिए ईसीआरकेयू गया शाखा स्थानीय स्तर तथा मंडल स्तर पर भी काफी तत्पर है हमेशा समस्याओं का समाधान कराते आई है तथा आगे भी समस्याओं का समाधान करवाएगी सिर्फ कर्मचारियों को एकजुट होकर साथ देने की आवश्यकता है। ईसीआरकेयू हाजीपुर के कार्यकारी अध्यक्ष मिथिलेश कुमार की उपस्थिति गया शाखा के लिए गौरव की बात रही है।अपने संबोधन में मिथिलेश कुमार ने आए दिन रेलवे कर्मचारियों के भत्तों में नाईट ड्यूटी एलाउंस, टीए, ओटी आदि पर रोक लगाने की सरकार की नीति की आलोचना की। उन्होंने कहा कि करोना काल में जहां लोग अपने घरों में बंद रहे वहीं रेलवे के विभिन्न विभागों के कर्मचारी दिन-रात अपनी सेवाएं देते रहे उन्हें प्रोत्साहन राशि देने के बजाय रेल मंत्रालय भारत सरकार ने पूर्व से मिलते आ रहे उनके भत्तों में, एनएच में ,नाइट ड्यूटी में कटौती तथा रोक लगाने का आदेश जारी कर दिया जोकि सरासर गलत है। 

जबकि रेल रेलवे के राजस्व में 90% फ्रेट से तथा 10% पैसेंजर अर्निंग से ज्यादा कमाई हुई है गया शाखा के सचिव विजय कुमार ने कहा कि 30 जून 2021 तक डीए फ्रिज कर रेलवे कर्मचारियों को हतोत्साहित करने का कार्य रेल मंत्रालय भारत सरकार द्वारा किया जा रहा है। सभी कर्मचारियों को ईसीआरकेयू के बैनर तले इसका पुरजोर विरोध करना होगा और भविष्य में भी  साथ चलना होगा तभी समस्याओं का निराकरण पूर्ण रूप से हो पाएगा।मौके पर गया शाखा के भूतपूर्व अध्यक्ष कृष्णा राम, मिथिलेश कुमार, अनिल कुमार सिन्हा, शाखा सचिव विजय कुमार, सहायक सचिव सह मीडिया प्रभारी उत्तम कुमार, कार्यकारी अध्यक्ष विजय कुमार, संयुक्त सचिव रामप्रवेश प्रसाद, उपाध्यक्ष एम एल मंडल, लक्ष्मण प्रसाद, संगठन मंत्री बीके जायसवाल, राजन कुमार सिन्हा, कोषाध्यक्ष राजेश कुमार, शाखा पार्षद आरके अवस्थी, पंकज कुमार सिंह, अजय कुमार सिंह, नरेश प्रसाद, मंटू कुमार, विनोद कुमार, श्रीनिवास सिंह, स्टेशन मास्टर सुबोध कुमार आदि रेल कर्मचारी एवं यूनियन के सदस्य उपस्थित थे।

ADVERTISEMENT