गाजीपुर बॉर्डर पर भी किसानों का महाजाम, जानिए NCR के किन-किन बॉर्डर पर किसानों का जमावड़ा


पंजाब और हरियाणा के किसानों ने पिछले कुछ दिनों से दिल्ली के चारों ओर डेरा जमाया हुआ है. कृषि कानून के खिलाफ सड़कों पर उतरे किसान अब पीछे हटने का नाम नहीं ले रहे हैं और दिल्ली में घुसने के लिए अड़े हैं. पहले दिल्ली-हरियाणा के सिंधु बॉर्डर पर किसानों ने बड़ी संख्या में डेरा जमाया, पुलिस से संघर्ष किया. अब गाजीपुर बॉर्डर पर भी ऐसा ही हाल है और किसान यहां पर बैठ गए हैं, जिसके कारण दिल्ली-एनसीआर के लोगों को काफी परेशानी हो रही है. 

गाजियाबाद और गाजीपुर को जोड़ने वाली सीमा पर बड़ी संख्या में किसानों ने डेरा जमाया हुआ है. यहां बीती रात बड़ी संख्या में किसान सड़कों पर रहे, कृषि कानून का विरोध किया. रातभर गाना गाया और एक दूसरे का हौसला बढ़ाया. दिल्ली पुलिस के मुताबिक, टिकरी और सिंधु बॉर्डर पर किसी तरह की ट्रैफिक मूवमेंट की इजाजत नहीं है. 

अगर यूपी की बात करें, तो किसानों ने मेरठ आने वाले रास्ते पर भी डेरा जमाया हुआ है. मेरठ, मुजफ्फरनगर, बागपत के किसान भारतीय किसान यूनियन की अगुवाई में दिल्ली-देहरादून हाइवे को जाम किए हुए हैं और दिल्ली आने पर अड़े हैं. हालांकि, पुलिस ने रास्ते में ही किसानों को रोका हुआ है और जिसके कारण दिल्ली-मेरठ के रास्ते पर बुरी स्थिति है.

किसानों के विरोध प्रदर्शन के कारण दिल्ली-बहादुरगढ़ रोड पर टिकरी बॉर्डर पर लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. यहां ट्रैफिक मूवमेंट बंद है, ऐसे में लोग मेट्रो का रुख कर रहे हैं जहां सुरक्षा बढ़ाई गई है. 

इससे पहले किसान सिंधु बॉर्डर पर जमे हुए हैं, जहां पुलिस ने किसानों को रोकने के लिए सड़क पर ही गड्ढा कर दिया था. इस जगह किसानों और पुलिस के बीच लंबा संघर्ष भी चला. किसानों ने पुलिस पर पथराव किया तो पुलिस ने भी पानी की बौछार, आंसू गैस का इस्तेमाल किया. साथ ही टिकरी बॉर्डर पर भी किसानों की मौजूदगी है, जहां बड़ी संख्या में किसान डटे हुए हैं.

दिल्ली कूच करने से पहले किसानों का प्रदर्शन पंजाब-हरियाणा सीमा पर जारी था. शंभू बॉर्डर पर करीब दो महीने से किसान डटे हुए थे, जिसके बाद पंजाब के करीब तीस किसान संगठनों ने एकजुट होकर दिल्ली कूच का फैसला किया. अब किसानों को हरियाणा के किसान और खाप पंचायतों का साथ मिल रहा है, ऐसे में अगर किसान-सरकार के बीच बात नहीं बनती है तो ये संकट बढ़ सकता है. 

किसान प्रदर्शन को देखते हुए जारी की गई दिल्ली पुलिस की एडवाइजरी के मुताबिक, टिकरी बॉर्डर किसी भी ट्रैफिक मूवमेंट के लिए बंद है. इसके अलावा झारोदा, धांसा, दौराला झटीकरा, बडूसरी, कापसहेड़ा, राजोखरी NH 8, बिजवासन / बजघेरा, पालम विहार और दुंदाहा बॉर्डर खुला है, जहां से यात्री अपनी यात्रा कर सकते हैं.


ADVERTISEMENT