डीआरआइ ने कोलकाता व सिलीगुड़ी से तस्करी का 12 किलोग्राम सोना किया जब्त


राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआइ) ने बंगाल में राजधानी कोलकाता व सिलीगुड़ी में दो अलग-अलग घटनाओं में 6 करोड़ रुपये से ज्यादा मूल्य का करीब 12 किलोग्राम सोना जब्त किया है। सोने के साथ 88.60 लाख रुपये नकदी भी जब्त किया गया है।

डीआरआइ की ओर से एक बयान में बताया गया कि इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। सोना म्यांमार व बांग्लादेश से तस्करी कर भारत लाया गया था। डीआरआइ के अनुसार जब्त सोने की कीमत 6.22 करोड़ रुपये आंकी गई है।

बयान के मुताबिक, गुरुवार को डीआरआइ को मुखबिरों से सूचना मिली थी कि करोड़ों रुपये मूल्य का सोना तस्करी कर कोलकाता के बांगुड़ एवेन्यू इलाके में लाया जाने वाला है। सूचना के आधार पर डीआरआइ की टीम ने निगरानी शुरू की। शाम को टीम को वाहन पर सवार होकर बांगुड़ एवेन्यू से गुजर रहे एक व्यक्ति पर संदेह हुआ। अधिकारियों ने जब उसे वाहन रोकने को कहा, तो वह भागने की कोशिश करने लगा।

हालांकि थोड़ी दूर में उसे पकड़ लिया गया। पूछताछ के बाद व्यक्ति के जैसोर रोड स्थित आवास में छापेमारी की गई, जहां से सोने के 42 बिस्कुट बरामद किये गये, जिनकी कीमत करीब 3,62,79,449 रुपये बताई गई है। सोने के बिस्कुटों का कुल वजन 6882.84 ग्राम है। वहां से 53 लाख रुपये नकद भी बरामद किए गए। डीआरआइ के अनुसार, पूछताछ में व्यक्ति ने बताया कि सोना के अवैध कारोबार में उसके पिता और उसके यहां काम करने वाला एक कर्मचारी भी शामिल है और सोना अवैध तरीके से बांग्लादेश से तस्करी कर लाया गया था। इसके बाद आरोपित के महानगर के हंसपुकुर लेन और कनुलाल लेन स्थित दो अन्य ठिकानों में भी छापेमारी की गई, जहां से 34,23,740 रुपये और 93,600 रुपये नकद बरामद किए गए।

इस मामले में सोने का अवैध कारोबार करने वाले व्यापारी, उसके पिता और कर्मचारी को गिरफ्तार कर लिया गया है। दूसरा अभियान शुक्रवार को सिलीगुड़ी में चलाया गया, जहां डीआरआइ की टीम ने दार्जिलिंग मोड़ से गुजर रहे वाहन की जांच के दौरान सोने के 30 बिस्कुट बरामद किये, जिनकी कीमत लगभग 2,60,10,540 रुपये हैं। सोने के बिस्कुट का कुल वजन करीब 4980 ग्राम है। इस मामले वाहन में सवार दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। दोनों ने पूछताछ में बताया कि सोना मणिपुर में अंतरराष्ट्रीय सीमा के मार्फत म्यांमार से तस्करी कर लाया गया था।


ADVERTISEMENT