रिलायंस रिटेल को सिल्वरलेक ने दिए 7500 करोड़, मिलेगी 1.75 फीसदी हिस्सेदारी


मुकेश अंबानी के स्वामित्व की रिलायंस रिटेल को अमेरिका की निजी इक्विटी कंपनी सिल्वरलेक पार्टनर्स से 7500 करोड़ रुपये मिले हैं. इसके बदले रिलायंस रिटेल ने अपनी 1.75 प्रतिशत हिस्सेदारी बेची है. आपको बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज ने नौ सितंबर को इस सौदे की घोषणा की थी. यह लगातार दूसरी बार है जब रिलांयस इंडस्ट्रीज की किसी इकाई में सिल्वरलेक ने निवेश किया है. इससे पहले  सिल्वरलेक ने ही रिलायंस के जियो प्लेटफॉर्म में 1.35 बिलियन डॉलर यानी करीब 10 हजार करोड़ में हिस्सेदारी खरीदी है. कंपनी ने दो किश्तों में जियो प्लेटफॉर्म्स पर निवेश किया है. 

केकेआर का भी निवेश

हाल ही में अमेरिका के इक्विटी फर्म केकेआर ने भी रिलायंस रिटेल में 5,550 करोड़ रुपये के निवेश का ऐलान किया है. सिल्वर लेक की तरह केकेआर का रिलायंस इंडस्ट्रीज ग्रुप में यह दूसरा निवेश है. इससे पहले रिलायंस के जियो प्लेटफॉर्म में भी केकेआर ने हिस्सेदारी खरीदी है. इस निवेश के बाद रिलायंस रिटेल में केकेआर की 1.28% हिस्सेदारी होगी. अमेरिका के इक्विटी फर्म KKR ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 1.5 अरब डॉलर (करीब 11,367 करोड़ रुपये) का निवेश किया है. 

अलग-अलग रिपोर्ट में कहा जा रहा है कि रिलायंस रिटेल में निवेश के लिए सोशल साइट फेसबुक और ई कॉमर्स कंपनी एमेजॉन भी तैयार हैं. फेसबुक ने जियो प्लेटफॉर्म पर करीब 45 हजार करोड़ रुपये के निवेश के साथ लगभग 10 फीसदी हिस्सेदारी ले ली है. हालांकि, एमेजॉन पहली बार रिलायंस इंडस्ट्रीज में दांव लगाएगी.

ब्रिटेन के डिपार्टमेंटल स्टोर Debenhams खरीदने की दौड़ में

बताया जा रहा है कि रिलायंस रिटेल ब्रिटेन के डिपार्टमेंटल स्टोर Debenhams को खरीदने की दौड़ में है. ब्रिटेन के स्काई न्यूज चैनल की मानें तो सितंबर के अंत तक सौदा हो सकता है. खबर के अनुसार रिलायंस रिटेल इस डिपार्टमेंटल स्टोर को खरीदने के लिए गंभीर दिख रही है. Debenhams का मालिकाना है फिलहाल बैंकों के एक कंसोर्टियम के पास है जिन्होंने अप्रैल में इसका स्वामित्व अपने हाथ में लिया था. इसके पहले मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाली रिलायंस ने ब्रिटेन की खिलौना कंपनी Hamleys को खरीदा था.


ADVERTISEMENT