बिहार में सियासी सरगर्मी का सोमवार: इधर CM नीतीश व कांग्रेस की वर्चुअल रैलियां, उधर LJP की बैठक कर रहे चिराग


Bihar Assembly Election 2020: बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर सोमवार को राज्‍य में सियासी सरगर्मी परवान पर होगी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) वर्चुअल रैली 'निश्चय संवाद' (Nischay Samvad) से अपने चुनावी अभियान का शंखनाद करेेंगे। जनता दल यूनाइटेड (JDU) के प्रदेश कार्यालय के कर्पूरी सभागार से मुख्यमंत्री वर्चुअल रैली को सुबह 11.30 बजे संबोधित करेंगे। सोमवार से ही कांग्रेस (Congress) की अलग-अलग वर्चुअल रैलियां होने जा रही हैं। उधर, राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के प्रमुख घटक और केंद्र सरकार में भागीदार लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के प्रमुख चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने सोमवार को ही दिल्ली में पार्टी के संसदीय बोर्ड की बैठक बुला रखी है। बिहार में एलजेपी व जेडीयू के रिश्‍तों में आई खटास को देखते हुए यह बैठक महत्‍वपूण मानी जा रही है।

जेडीयू की वर्चुअल रैली में जुडेंगे 30 लाख लोग


जेडीयू की सोमवार को हो रही वर्चुअल रैली में 30 लाख से अधिक लोगों के जुडऩे का दावा किया गया है। जेडीयू ने अपने डिजिटल प्लेटफार्म जेडीयू लाइव डॉटकॉम पर मुख्यमंत्री की वर्चुअल रैली को लाइव करेगा। सोशल मीडिया के अन्य प्लेटफॉर्म का भी बड़े स्तर पर इस्तेमाल किया जाएगा। इस रैली के साथ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जेडीयू के चुनावी अभियान का विधिवत आगाज करेंगे। इस दौरान 15 साल की उपलब्धियों के साथ नए एजेंडे पर भी विमर्श होगा। मुख्यमंत्री का संबोधन 11.30 बजे से 11.45 बजे तक निर्धारित है।

चंपारण से कांग्रेस के क्रांति महासम्‍मेलन का आगाज

वहीं सोमवार को ही महात्मा गांधी की प्रयोग भूमि चंपारण से कांग्रेस के क्रांति महासम्मेलन का आगाज होने जा रहा है। यह अगले 20 दिनों तक जारी रहेगा। चंपारण के सम्मेलन को राज बब्बर , प्रमोद तिवारी, शक्ति सिंह गोहिल एवं आचार्य प्रमोद कृष्णन जैसे वक्ता ऑनलाइन संबोधित करेंगे। इस दौरान उत्तर बिहार के करीब 40-45 विधानसभा क्षेत्रों में राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार की विफलताओं को मुद्दा बनाया जाएगा।

दिल्‍ली में होने वाली एलजेपी की बैठक पर सबकी निगाहें

बिहार में एनडीए के प्रमुख घटक और केंद्र सरकार में भागीदार एलजेपी के रुख पर सबकी निगाहें हैं। जेडीयू और राज्य सरकार पर लगातार हमले करते आ रहे एलजेपी प्रमुख चिराग पासवान ने सोमवार को ही दिल्ली में पार्टी के संसदीय बोर्ड की बैठक बुला रखी है। बिहार की राजनीति के लिए एलजेपी की इस बैठक को अति महत्वपूर्ण माना जा रहा है। हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा (हम) प्रमुख जीतनराम मांझी के जेडीयू के साथ बिना शर्त खड़े हो जाने और चिराग पासवान को नसीहत देने के बाद से एनडीए की राजनीति नए मोड़ की ओर बढ़ती दिख रही है।

बीजेपी में भी गहमागहमी, नीतीश से मुलाकात कर सकते नड्डा

चुनावी तैयारियों को आगे बढ़ाने के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) और बिहार के चुनाव प्रभारी देवेंद्र फड़नवीस (Devendra Fadnavis) भी मंगलवार को पहुंचने वाले हैं। इसके पहले सोमवार तक पड़ोसी राज्यों यूपी-झारखंड के प्रमुख नेता पटना पहुंच जाएंगे। उन सबको पंचायतों के दौरे करने हैं। माना जा रहा है कि नड्डा के आते ही गठबंधन में सीट बंटवारे की धुंध बहुत हद तक साफ हो जाएगी। वे जडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात कर सकते हैं।

ADVERTISEMENT