रिलायंस Jio के बाद रिटेल की बारी! फेसबुक-KKR ने दिखाई निवेश में दिलचस्पी


कोरोना काल में रिलायंस जियो को एक के बाद एक कई निवेशक मिले हैं. इनमें अमेरिका के इक्विटी फर्म KKR और सोशल साइट फेसबुक भी शामिल हैं. अब ये दोनों फर्म- केकेआर और फेसबुक, रिलायंस रिटेल में निवेश की तैयारी में हैं.

बिजनेस टुडे की एक खबर के मुताबिक फ्यूचर ग्रुप के रिटेल कारोबार के अधिग्रहण हो जाने के बाद अमेरिकी कंपनियां रिलायंस रिटेल में निवेश करेंगी. आपको बता दें कि रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) फ्यूचर ग्रुप की रिटेल एंड होलसेल बिजनेस और लॉजिस्टिक्स एंड वेयरहाउसिंग बिजनेस का अधिग्रहण करने जा रही है. इससे रिलायंस फ्यूचर ग्रुप के बिग बाजार, ईजीडे और FBB के 1,800 से अधिक स्टोर्स तक पहुंच बनाएगी, जो देश के 420 शहरों में फैले हुए हैं. यह डील 24713 करोड़ में फाइनल हुई है.

सिल्वर लेक पार्टनर्स भी रेस में
ये भी खबर है कि रिलायंस रिटेल में अमेरिकी प्राइवेट इक्विटी कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स 1 अरब डॉलर (करीब 7500 करोड़ रुपये) के निवेश के लिए बातचीत में लगी है. लंदन के अखबार फाइनेंशियल टाइम्स के अनुसार इस निवेश के लिए दोनों समूह बातचीत में लगे हैं और इसमें रिलायंस रिटेल का वैल्यूएशन करीब 57 अरब डॉलर (करीब 4.18 लाख करोड़ रुपये) का हो सकता है.

जियो में केकेआर और फेसबुक का निवेश
अमेरिका के इक्विटी फर्म KKR ने जियो प्लेटफॉर्म्स में 1.5 अरब डॉलर (करीब 11,367 करोड़ रुपये) का निवेश किया है. वहीं, फेसबुक ने भी जियो प्लेटफॉर्म पर करीब 45 हजार करोड़ रुपये के निवेश के साथ लगभग 10 फीसदी हिस्सेदारी ले ली है.  

बता दें कि लॉकडाउन के दौरान करीब 3 महीने के भीतर रिलायंस ने अपनी सहयोगी कंपनी जियो प्लेटफॉर्म्स के लिए दुनिया के 13 ​निवेशकों से करीब 1.52 लाख करोड़ रुपये का निवेश हासिल किया है. करीब 3 महीनों में जिन कंपनियों ने जियो प्लेटफॉर्म में निवेश किया है उनमें फेसबुक, गूगल, सिल्वर लेक, विस्टा इक्विटी पार्टनर्स, जनरल एटलांटिक, केकेआर, मुबाडला, एडीआईए, टीपीजी, एल कैटेरटन और पीआईएफ, क्वालकॉम और इंटेल शामिल हैं.

ADVERTISEMENT