हुगली में तृणमूल व भाजपा समर्थकों में संघर्ष, दो पुलिसकर्मी समेत आधा दर्जन लोग जख्मी


एम्फन तूफान से प्रभावित परिवारों को सरकारी आर्थिक सहायता नहीं मिलने की बजाय तृणमूल समर्थित लोगों को मुआवजा मिलने को लेकर ज्ञापन देने ग्राम पंचायत कार्यालय पहुंचे भाजपा कर्मियों के साथ तृणमूल समर्थकों की झड़प हो गई। इस संघर्ष में दो पुलिसकर्मी समेत दोनों दलों के लगभग आधा दर्जन समर्थकों के जख्मी होने की खबर है। बंगाल के हुगली के पोलवा-दादपुर पंचायत के अन्तर्गत माकालपुर एवं साटीथान ग्राम पंचायत में सरकारी आर्थिक सहायता राशि में धांधली करने के खिलाफ गुरुवार को भाजपा समर्थक साटीथान ग्राम पंचायत पहुंचे। पुलिस की घेराबंदी तोड़ते हुए भाजपा समर्थक पंचायत कार्यालय के अंदर घुस गए। 

आरोप है कि भाजपा कार्यकर्ताओं ने महिला ग्राम प्रधान के साथ अभद्र व्यवहार भी किया। इसी को लेकर भाजपा एवं तृणमूल समर्थकों के बीच झड़प हो गई। पुलिस पर भी प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजी की।  स्थिति नियंत्रित करने के लिए पुलिस को भी लाठी भांजनी पड़ी। इस संघर्ष में दोनों दलों के आधा दर्जन समर्थकों के साथ एक सिविक पुलिस एवं एक पुलिसकर्मी भी जख्मी हो गए। जिला तृणमूल कांग्रेस के अध्यक्ष दिलीप यादव का कहना है कि इन दिनों आंदोलन के नाम पर जिला के विभिन्न जगहों पर भारतीय जनता पार्टी के लोग अशांति फैलाने का काम कर रहे हैं। दूसरी ओर, भाजपा नेता गौतम चक्रवर्ती का कहना है कि हम लोग शांतिपूर्ण ढंग से ज्ञापन देने पंचायत कार्यालय पहुंचे थे। लेकिन तृणमूल समर्थकों ने हम लोगों पर हमला बोल दिया। इधर आरोप है कि मकालपुर ग्राम पंचायत कार्यालय में भी भाजपा कर्मियों ने इसी मुद्दे पर प्रधान के कार्यालय में हंगामा किया।

ADVERTISEMENT