59 चीनी ऐप्स पर बैन से अमेरिका खुश, कहा- चीन के खिलाफ एकजुट हों लोकतांत्रिक देश


अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि हम सिर्फ द्विपक्षीय बातचीत ही नहीं करते हैं, बल्कि सभी मामलों में दखल देते हैं, क्योंकि हम वैश्विक शक्तियां हैं. वास्तव में हर जगह बहुपक्षवाद ही काम करता है.
इस दौरान उन्होंने चीन के खिलाफ सभी लोकतांत्रिक देशों को लामबंद होने को भी कहा. माइक पोम्पियो ने कहा कि चीन के खतरे को देखते हुए अब यह बेहद जरूरी हो गया है कि अमेरिका जैसे लोकतांत्रिक देश एक साथ मिलकर काम करें.

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि गलवान घाटी में चीनी सेना के साथ हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिकों की शहादत को लेकर हम बेहद दुखी हैं. हम क्वाड (QUAD) यानी क्वड्रीलेटरल सिक्टोरिटी डायलॉग और एक तरह के देशों वाले दूसरे ग्रुपों में काम करते हैं. हमने इस साल पीएम मोदी को G7 में आमंत्रित किया.

अमेरिकी विदेश मंत्री ने भारत में चीनी ऐप्स पर बैन लगाने पर खुशी जाहिर की. उन्होंने कहा कि हम इस बात को लेकर बेहद खुश हैं कि भारत ने 59 चीनी ऐप्स पर बैन लगा दिया है.

अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा, 'हमने ब्लू डॉट नेटवर्ट को बढ़ावा देने के लिए भारत के साथ काम किया है. गरीबी दूर करने के लिए यह बेहद जरूरी है. व्यापार और कारोबार को बढ़ाने के लिए भी यह महत्वपूर्ण है. मुझको विश्वास है कि हमारी पार्टनरशिप मजबूत हो रही है.'

अमेरिकी विदेश मंत्री का यह बयान उस समय सामने आया है, जब चीन के वुहान शहर से निकला कोरोना वायरस पूरी दुनिया में कहर बरपा रहा है. कोरोना वायरस का सबसे ज्यादा कहर अमेरिका में देखने को मिल रहा है. कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले अमेरिका में हैं. इस महामारी के लिए अमेरिका लगातार चीन को जिम्मेदार ठहरा रहा है. इसको लेकर चीन और अमेरिका के बीच तनाव भी काफी बढ़ गया है.

ADVERTISEMENT