अनुच्छेद 370 हटने के एक साल पूरे होने पर PAK की साजिश, बॉर्डर पर घुसपैठ की कोशिश में आतंकी


जम्मू-कश्मीर में आतंक के खिलाफ सुरक्षाबलों का अभियान जारी है. इस बीच घाटी से अनुच्छेद 370 को हटे एक साल पूरा हो रहा है ऐसे में पाकिस्तान की ओर से कोशिश है कि जम्मू-कश्मीर में अशांति फैलाई जाए. यही कारण है कि बॉर्डर पर कई मोर्चों पर पाकिस्तान समर्थित आतंकी इस ओर आने की कोशिश में हैं. पिछले कई दिनों में ये कोशिशें हुई भी हैं लेकिन हर बार सुरक्षाबलों ने इन्हें नाकाम कर दिया है.

पाकिस्तानी सेना लगातार बॉर्डर पर गोलीबारी कर ध्यान भटकाने कोशिश करती है, ताकि आतंकी घुसपैठ कर सकें. अब पांच अगस्त से पहले आतंकियों की ओर से इन इलाकों में घुसपैठ की कोशिश की जा रही है.

इनपुट के अनुसार, जैश ए मोहम्मद के 6 आतंकी केरण सेक्टर के पास से घुसपैठ की फिराक में हैं. वहीं लश्कर के पांच आतंकी केरण सेक्टर के पास ही से ही घुसपैठ की कोशिश कर सकते हैं. इनके अलावा तंगधार सेक्टर जहां अधिकतम घुसपैठ होती है वहां भी अल-बदर के 6 आतंकी घात लगाए बैठे हैं.

आतंकियों की ओर से कोई मौका नहीं छोड़ा जा रहा है, यही वजह है कि पुंछ और नौशेरा सेक्टर में भी क्रमश: 6 और 4 आतंकी घुसपैठ की कोशिश में जुटे हुए हैं.

गौरतलब है कि पिछले दिनों में बॉर्डर पर पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी बढ़ी है. उसका कारण अनुच्छेद 370 हटने को एक साल पूरा होना, साथ ही 15 अगस्त की तारीख नज़दीक आना. हर साल पाकिस्तान की कोशिश इन दिनों के बीच में अशांति फैलाने की होती है.

दरअसल, पाकिस्तान के लिए बड़ी मुश्किल ये भी है कि कश्मीर में पिछले दिनों में कई बड़े एनकाउंटर हुए हैं. सुरक्षाबलों ने आतंकियों को ढूंढ-ढूंढकर मारा है और बड़ी संख्या में आतंकियों को मौत के घाट उतारा है. यही कारण है कि पाकिस्तान बौखलाया हुआ है और नए आतंकी भेजकर कोई बड़ी घटना कराना चाहता है.

ADVERTISEMENT