बिजली गिरने से 12 की मौत, बेगूसराय में सात और भागलपुर, मुंगेर, कैमूर, गया, जमुई में एक-एक की जान गई


पटना:  बुधवार को बिहार के 6 जिलों में बिजली गिरने से 12 लोगों की मौत हो गई। इसमें बेगूसराय में सात लोगों की जान गई है। भागलपुर, मुंगेर, कैमूर, गया और जमुई में एक-एक मौत हुई है। खेत में काम करने के दौरान हादसा हुआ है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मृतक के परिजनों को चार-चार लाख रुपए मुआवजा देने का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री ने लोगों से अपील की है कि खराब मौसम में सभी लोग सतर्कता बरतें। खराब मौसम होने पर वज्रपात से बचाव के लिए आपदा प्रबंधन विभाग के निर्देशों का पालन करें। बारिश या खराब मौसम के दौरान घरों में रहें।

मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट
मौसम विभाग ने 12 जुलाई तक पूर्वी चम्पारण, शिवहर, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, मधुबनी, दरभंगा, बेगूसराय, खगड़िया, सुपौल, सहरसा, मधेपुरा, भागलपुर और बांका में भारी बारिश के साथ बिजली गिरने को लेकर अलर्ट जारी किया है। पटना में भी हल्की से मध्यम बारिश के आसार हैं। पटना मौसम विज्ञान केंद्र के पूर्वानुमान में कहा गया है कि वर्तमान में मानसून की अक्षीय रेखा डालटेगंज के ऊपर से गुजर रही है और इसके उत्तर की ओर बढ़ने की संभावना है। इससे बिहार में बारिश के आसार हैं।

बचाव का उपाय ऐप पर अलर्ट, पर ये अधिकतर लोगों के पास नहीं
लोगों को बिजली से बचाने के लिए सरकार ने पिछले साल अगस्त में अर्थ नेटवर्क कंपनी से 4 साल का करार किया था। इस कंपनी ने indravajra ऐप बनाया है, जिसे playstore से डाउनलोड कर सकते हैं। एंड्रायड मोबाइल उपभोक्ताओं को बिजली गिरने से 30-45 मिनट पहले अलार्म टोन से अलर्ट मिलता है। उन्हीं को अलर्ट मैसेज जा रहा जो बिजली गिरने वाले इलाके में मौजूद हैं और उनके मोबाइल में इंटरनेट नेटवर्क सही ढंग से काम कर रहा है। जीपीएस ऑन रहना जरूरी है। लेकिन, जागरूकता के आभाव में यह ऐप कई लोगों के पास नहीं है।

ADVERTISEMENT