चीनी उत्पादों का बॉयकॉट होगी शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि : विजयवर्गीय


चीनी उत्पादों का बॉयकॉट ही शहीदों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि होगी। यह बात रविवार को भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव व बंगाल इकाई के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने कही। उन्होंने ट्वीट किया कि सबसे पहले वीर शहीदों को श्रद्धांजलि, जिन्होंने भारत की रक्षा के लिए अपना बलिदान दिया है, लेकिन उनके प्रति सच्ची श्रद्धांजलि तभी होगी कि हम चीन के उत्पादों को नहीं खरीदेंगे। यह अभियान भारत के स्वाभिमान के लिए है।

उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि इस संकल्प के साथ स्वदेशी, स्वावलंबी, समर्थ और शक्तिशाली राष्ट्र निर्माण के अभियान को समर्थन देने के लिए 18001031031 नंबर पर मिस्ड कॉल करें। इस नंबर पर मिस्ड कॉल कर चीनी उत्पादों से बहिष्कार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता जता सकते हैं। उल्लेखनीय है कि लद्दाख में चीनी घुसपैठ को रोकने के लिए हुई झड़प में ‍भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। इसमें बंगाल के भी 2 जवान शहीद हुए हैं। भारतीय 20 जवानों के शहीद होने के बाद से चीन के खिलाफ लोगों में काफी आक्रोश है। भाजपा नेता भी लगातार चीनी उत्पादों के बॉयकॉट की अपील कर रहे हैं।

उधर, वर्ष 2011 तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी ने एक बहुत ही परिपक्व नारा दिया था-‘बदला नहीं, बदलाव चाहिए’ और बंगाल की जनता ने उनके नारे पर भरोसा करते हुए 34 वर्षों के वामपंथी शासन का अंत कर दिया था। परंतु, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष की फोटो वाले एक पोस्ट जिस पर नारे लिखा है- ‘बदलाउ होबे, बदलउ होबे’( बदला भी होगा, बदलाव भी होगा) इस पर भाजपा के भीतर ही विरोध शुरू हो गया है। दिलीप घोष का कहना है कि जिस तरह से भाजपा कार्यकर्ताओं व समर्थकों की बंगाल में तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ता हत्या कर रहे हैं उसमें अगर हम बदला नहीं लेते हैं, तो लोग हमें कायर कहेंगे।


ADVERTISEMENT