लालू यादव देखें 'गंगा जल' और 'अपहरण' फिल्म, याद आएगा गुजरा जमाना: सुशील मोदी


कोरोना संकट के बीच बिहार में सियासी घमासान तेज होने लगा है। आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) जहां बिहार की नीतीश कुमार सरकार पर ट्वीट करे जरिए निशाना साध रहे हैं, वहीं दूसरी ओर सत्तापक्ष की ओर से उन पर पलटवार भी हो रहा है। डिप्टी सीएम सुशील मोदी (Sushil Modi Targets Lalu Yadav) ने कहा कि बिहार में लालू-राबड़ी ने 15 साल के राज में ग्रामीण और शहरी, दोनों अर्थव्यवस्था को ध्वस्त कर दिया था। लालू प्रसाद यादव ने हर वर्ग के लोगों की रोजी-रोटी छीनी और उनको पलायन के लिए मजबूर कर दिया।

सुशील मोदी ने साधा लालू यादव पर निशाना
सुशील मोदी ने कहा कि बिहार को चौपट कर महापलायन कराने के सियासी गुनहगार लालू यादव किस मुंह से सवाल पूछ रहे हैं। लालू-राबड़ी राज में हत्या-लूट और उद्यमियों-व्यवसायियों से फिरौती वसूलने के लिए अपहरण की बढ़ती घटनाओं के चलते व्यापार ठप पड़ गया था। उन्होंने कहा कि, अगर लालू प्रसाद यादव को अपने राजपाट की भयावहता याद न हो, तो 'गंगा जल' और 'अपहरण' फिल्म फिर से देख लें।

'जिन्हें माफी मांगनी चाहिए वो जेल से ट्वीट कर रहे'
सुशील मोदी ने आगे कहा कि आरजेडी के शासन काल में ना तो बिहार में अच्छी सड़क थी, न पर्याप्त बिजली थी और विकास भी ठप था। स्कूली शिक्षा चरवाहा विद्यालय के स्तर पर आ गई थी और राजनीतिक पसंद के लोगों को कुलपति बनाकर विश्वविद्यालयों की गुणवत्ता नष्ट कर दी गई थी।जिन लालू यादव के कारण लाखों मजदूरों, छात्रों और रोजगार देने वाले उद्यमियों को बिहार छोड़ना पड़ा, वे खुद बिहारियों की मुसीबत और शर्मिंदगी के सियासी गुनहगार हैं। जिन्हें अपने किए के लिए माफी मांगनी चाहिए, वे जेल से ट्वीट कर सवाल पूछ रहे हैं।


ADVERTISEMENT