कोरोना संकट: भारत ने भेजी 23 टन दवाई तो नेपाल ने कहा- थैंक्यू पीएम मोदी


विश्व के 200 से ज्यादा देश आज कोरोना वायरस की चपेट में हैं. भारत में भी हाल के दिनों में संक्रमितों की संख्या काफी तेजी से बढ़ी है. इसके बावजूद भारत पड़ोसी देशों की मदद कर रहा है. भारत ने हाल में नेपाल को लगभग 23 टन जरूरी दवाई भेजी है. नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद करते हुए एक ट्वीट किया है.

उन्होंने लिखा, 'मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का धन्यवाद करता हूं कि उन्होंने कोरोना महामारी से लड़ने के लिए नेपाल को 23 टन जरूरी दवाई दी है. आज भारतीय राजदूत द्वारा हमारे स्वास्थ्य मंत्री को दवाइयां सौंपी गईं.'

इसके जवाब में पीएम मोदी ने भी एक ट्वीट किया. उन्होंने लिखा, 'भारत और नेपाल के बीच का संबंध बेहद खास है. यह संबंध ना केवल मजबूत हैं बल्कि इसकी जड़ें काफी गहरी हैं. भारत इस आपदा की घड़ी में नेपाल के साथ खड़ा है.'

जाहिर है इससे पहले भारत ने अमेरिका को भी हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा की निर्यात को मंजूरी दी थी. इसके बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने थैंक्यू इंडिया कहा था.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था, 'मुश्किल हालात में दोस्तों के बीच और सहयोग की जरूरत पड़ती है. हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन पर फैसला लेने के लिए भारत और उसके लोगों को धन्यवाद. इसे हम कभी नहीं भुला सकते. इस सहयोग के लिए प्रधानमंत्री मोदी को शुक्रिया.'