अब छह महीने तक लोगों को मुफ्त में राशन देगी बंगाल सरकार


कोलकाता : कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए पूरे देश में किए गए लॉकडाउन की वजह से परेशान आम लोगों के लिए बंगाल सरकार ने राहत की खबर दी है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार अपराह्न राज्य सचिवालय नवान्न में मीडिया से बात कर घोषणा की है कि राज्य सरकार आगामी छह महीन तक लोगों को मुफ्त में राशन देगी. 

उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर बंगाल के निवासियों की सुविधाओं के लिए अब वहां के उत्तर बंगाल मेडिकल कॉलेज में भी कोरोना जांच की सुविधा विकसित कर दी गई है. राज्य के लोग सामुदायिक दूरी बरकरार रख रहे हैं. लोगों की सुविधाओं के लिए जितनी भी सामाजिक पेंशन योजनाएं राज्य सरकार की हैं उसकी दो महीने की राशि सरकार अग्रिम तौर पर खाते में दे देगी. मुख्यमंत्री ने गर्भवती महिलाओं और अन्य जरूरतमंदों की मदद करती नजर आ रही कोलकाता और राज्य पुलिस की सराहना की. उन्होंने कहा कि पुलिस को मानवीय पहलुओं का ध्यान रखना होगा. लोग राशन आदि खरीदने के लिए बाहर निकलेंगे. उन्होंने कहा कि वे लोग जो डॉक्टर हैं, नर्स हैं या सामाजिक कार्य में जुड़े हुए हैं, मानवीय आधार पर उनके साथ बेहतर बर्ताव रखना होगा.

उल्लेखनीय है कि कुछ दिनों पहले कोलकाता समेत राज्यभर से डॉक्टरों को घरों से निकालने की मकान मालिकों की कोशिशों के बारे में खुलासा हुआ था. इसी के परिप्रेक्ष्य में मुख्यमंत्री ने उक्त बातें कही हैं. आपदा की इस घड़ी में मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा, चर्च आदि बंद कर देने की घोषणा करने वाले मजहबी नेताओं की भी सराहना मुख्यमंत्री ने की. उन्होंने कहा कि इस समय आम लोगों से लेकर धार्मिक व्यक्तियों तक ने सहयोग किया है.

लॉकडाउन की सोमवार को राज्य सरकार समीक्षा करेगी

हालांकि केंद्र सरकार की ओर से देश भर में जारी किए गए लॉकडाउन के संबंध में जब उनसे बंगाल में निर्देशिका जारी नहीं करने के संबंध में सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि 30 तारीख को वह हालात की समीक्षा करेंगी उसके बाद ही आगे का निर्णय लेंगी. मुख्यमंत्री ने बताया कि राज्य में दवा, खाना और आवश्यक चीजों की कोई कमी नहीं है. सोमवार को राज्य सरकार समीक्षा करेगी और‌‌ आगे के कदम पर विचार करेंगे उन्होंने बेकरी शॉप को भी खुला रखने की छूट दी.