बिहार चुनाव की पिच पर उतरीं पुष्पम प्रिया चौधरी, शुरू किया जनसंपर्क अभियान


इस साल के अंत में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर अभी से सियासत शुरू हो गई है. दरभंगा की रहने वाली पुष्पम प्रिया चौधरी ने विज्ञापन के जरिए खुद को बिहार के मुख्यमंत्री पद की प्रबल दावेदार बताया. पुष्पम प्रिया ने पिछले हफ्ते 'प्लूरल्स' नाम के एक राजनीतिक दल के गठन का ऐलान किया और खुद को प्रदेश के मुख्यमंत्री पद का दावेदार घोषित कर दिया.

शनिवार को पुष्पम प्रिया ने जनसंपर्क अभियान की शुरुआत मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिला नालंदा से की. जनसंपर्क अभियान की शुरुआत करने के दौरान पुष्पम प्रिया चौधरी ने फेसबुक पर लिखा, उनकी पार्टी 'प्लूरल्स' की योजना बहुत स्पष्ट है - अंतर्राष्ट्रीय ज्ञान और जमीनी अनुभव की साझेदारी ताकि कृषि क्रांति, औद्योगिक क्रांति और नगरीय क्रांति की नई कहानी लिखी जा सके.

जनसंपर्क अभियान में ग्रहण कराई पार्टी की सदस्यता

अपने जनसंपर्क अभियान के दौरान पुष्पम प्रिया चौधरी कृषि उद्यमी सुमंत कुमार के घर पहुंचीं और उन्हें अपनी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई. सुमंत कुमार से मिलने के बाद उन्होंने फेसबुक पर लिखा कि वह सुमंत कुमार जैसे कृषि उद्यमियों के साथ मिलकर बिहार की कृषि व्यवस्था का इतिहास और भूगोल बदलेंगी. पुष्पम प्रिया चौधरी दरभंगा की रहने वाली हैं और उन्होंने लंदन से अपनी पढ़ाई पूरी की है. उनके पिता विनोद चौधरी जेडीयू के वरिष्ठ नेता हैं और एमएलसी रह चुके हैं.

सीएम बनने के जाहिर किए इरादे

पुष्पम प्रिया चौधरी ने पिछले हफ्ते बिहार के सभी अखबारों में एक विज्ञापन देकर खुद की नई पार्टी बनाने का ऐलान किया था और खुद को सीएम पद का चेहरा घोषित किया था. जब उनके पिता को इसकी जानकारी मिली तो उन्होंने कहा कि पुष्पम प्रिया ने बेहतर कदम उठाया है, वो इस कदम का स्वागत और समर्थन करते हैं.