वर्ल्ड कप फाइनल में हारी भारतीय महिला टीम, ऑस्ट्रेलिया 5वीं बार बना चैम्पियन


ICC महिला टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 85 रनों से हरा दिया और पांचवीं बार वर्ल्ड कप की ट्रॉफी अपने नाम कर ली. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलिया ने 20 ओवर में 4 विकेट गंवा कर 184 रन बनाए और भारत के सामने वर्ल्ड कप जीत के लिए 185 रनों का टारगेट रखा. जवाब में भारतीय महिला टीम 19.1 ओवर में 99 रनों पर ढेर हो गईं. ऑस्ट्रेलिया ने रिकॉर्ड पांचवीं बार यह खिताब अपने नाम कर लिया है.

इसके अलावा उसने इस बार अपने खिताब का बचाव भी किया है. मेजबान टीम छठी बार फाइनल में पहुंची थी जबकि भारतीय टीम पहली बार फाइनल खेल रही थी. भारत की ओर से दीप्ति शर्मा ने सर्वाधिक 33 रन बनाए. उनके अलावा वेदा कृष्णामूर्ति ने 19 और ऋचा घोष ने 18 जबकि स्मृति मंधाना ने 11 रन बनाए. ऑस्ट्रेलिया की ओर से मेगान स्कट ने चार और जेस जोनासन ने तीन जबकि सोफी मोलिन्यूक्स, डेलिसा किमिंस और निकोला कैरी ने एक-एक विकेट लिया.

टी-20 वर्ल्ड चैम्पियंस

2009: इंग्लैंड

2010: ऑस्ट्रेलिया

2012: ऑस्ट्रेलिया

2014: ऑस्ट्रेलिया

2016: वेस्टइंडीज

2018: ऑस्ट्रेलिया

2020: ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलिया से मिले 185 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत काफी खराब रही और टीम नियमित अंतराल पर विकेट गंवाती चली गई. भारत की ओर से दीप्ति शर्मा ने सर्वाधिक 33 रन बनाए. उन्होंने 35 गेंदों पर दो चौके लगाए. उनके अलावा वेदा कृष्णामूर्ति ने 19, ऋचा घोष ने 18, स्मृति मंधाना ने 11 और कप्तान हरमनप्रीत कौर ने चार रनों का योगदान दिया. ऑस्ट्रेलिया की ओर से मेगान स्कट ने चार और जेस जोनासन ने तीन जबकि सोफी मोलिन्यूक्स, डेलिसा किमिंस और निकोला कैरी ने एक-एक विकेट लिया. इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया ने क तूफानी शुरुआत करते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 184 रन का स्कोर का मजबूत स्कोर बनाया.

ऑस्ट्रेलिया ने भारत को दिया 185 रनों का टारगेट

ऑस्ट्रेलिया ने मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर फाइनल में भारत के सामने खिताबी जीत के लिए 185 रनों का विशाल लक्ष्य रखा. ऑस्ट्रेलिया के लिए बेथ मूनी ने सबसे ज्यादा 78 रन बनाए जबकि एलिसा हिली ने 39 गेंदों पर 75 रन बनाए. भारत के लिए दीप्ति शर्मा ने 4 ओवर में 38 रन देकर 2 विकेट लिये. करीब 80,000 दर्शकों की मौजूदगी में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी ऑस्ट्रेलियाई टीम ने तूफानी शुरुआत करते हुए 20 ओवर में चार विकेट पर 184 रनों का स्कोर बनाया.

ऑस्ट्रेलियाई टीम को उसके दोनों ओपनरों बेथ मूनी (नाबाद 78) और एलिसा हिली (75) ने पहले विकेट के लिए 11.4 ओवर में 115 रनों की साझेदारी कर तूफानी शुरुआत दी. विशाल होती जा रही इस साझेदारी को राधा यादव ने हिली को सीमा रेखा पर वेदा कृष्णामूर्ति के हाथों कैच कराकर तोड़ा. हिली ने 39 गेंदों पर सात चौके और पांच छक्कों की मदद से अपने करियर का 12वां अर्धशतक लगाया.

हिली के आउट होने के बाद मूनी ने अपने करियर का नौवां अर्धशतक पूरा किया और उन्होंने कप्तान मेन लेनिंग (16) और मूनी ने दूसरे विकेट के लिए 39 रन जोड़े. लेनिंग के आउट होने के बाद ही एश्ले गार्डनर (2) की आउट हो गईं. दोनों बल्लेबाज दीप्ति शर्मा की ओवर में आउट हुईं. दीप्ति ने अपने चौथे औवर में लेनिंग और गार्डनर को आउट करके भारत को मैच में वापस लाने की कोशिश की.

मूनी ने हालांकि एक छोर संभाले रखा और अपनी टीम को मजबूत लक्ष्य तक पहुंचाया. मूनी ने 54 गेंदों पर 10 चौके लगाए. उनके अलावा कप्तान मेग लेनिंग ने 15 गेंदों पर दो चौकों की बदौलत 16, एश्ले गार्डनर ने दो, रचेल हायेनेस ने चार और निकोला कैरी ने नाबाद पांच रन बनाए. भारत की ओर से दीप्ति शर्मा ने दो और राधा यादव तथा पूनम यादव ने एक-एक विकेट चटकाए.

ऑस्ट्रेलिया ने जीता टॉस

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया है और भारत को गेंदबाजी दी है. भारत ने अपनी प्लेइंग इलेवन में कोई बदलाव नहीं किया है. प्रसिद्ध पॉप गायक कैटी पेरी ने फाइनल से पूर्व मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर करीब 75,000 से अधिक प्रशंसकों का मनोरंजन किया.

टीमें:

भारत: शेफाली वर्मा, स्मृति मंधाना, जेमिमाह रोड्रिग्ज, तानिया भाटिया, हरमनप्रीत कौर (कप्तान), वेदा कृष्णामूर्ति, राजेश्वरी गायकवाड़, दीप्ति शर्मा, शिखा पांडे, पूनम यादव, राधा यादव.

ऑस्ट्रेलिया: एलिसा हिली, बेथ मूनी, मेग लेनिंग (कप्तान), जेस जोनासन, एश्ले गार्डनर, रचेल हायेनेस, निकोला कैरी, सोफी मोलिनेयुक्स, जॉर्जिया वारेहैम, डेलिसा किममिंसे, मेगान स्कट