About Me

header ads

कोरोना के दौर में क्या करें कारोबारी? आनंद महिंद्रा ने गिनाए ये पांच अवसर


कोरोना वायरस की वजह से भारत सहित पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान हो रहा है. प्रख्यात उद्योगपति आनंद महिंद्रा ने इस निराशा के दौर में कारोबारियों का मनोबल मजबूत करने की कोशिश की है. उन्होंने इस संकट के दौर में भी पांच कारोबारी अवसर गिनाए हैं.

महिंद्रा समूह के चेयरमैन आनंद महिंद्रा ने ट्वीट कर ऐसे तरीके बताए हैं कि किस तरह से विभिन्न तरह के कारोबारी अपनी रणनीति में बदलाव कर सकते हैं और अपने मुनाफे को ज्यादा से ज्यादा कर सकते हैं.

क्या कहा आनंद महिंद्रा ने

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के कहर से पूरी दुनिया के शेयर बाजार, वित्तीय संस्थाएं और समूची अर्थव्यवस्था परेशान है. विश्व बैंक और अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष जैसी संस्थाओं ने इसकी वजह से दुनिया की इकोनॉमी की चाल सुस्त पड़ जाने की बात कही है.

आनंद महिंद्रा ने सभी कारोबारियों से कहा है कि वे 'अपने ग्राहकों से गहरा व्यक्तिगत रिश्ता कायम करें.' आनंद महिंद्रा ने ट्वीट कर उन पांच अवसरों को बताया है जो इस वायरस संकट की वजह से कारोबारियों के सामने हैं.

ये हैं पांच अवसर:

उन्होंने कहा कि वायरस संकट की वजह से कारोबार के सामने चुनौतियां हैं, लेकिन कई अभूतपूर्व अवसर भी हैं. जो इस प्रकार हैं:

1. हमें एक बहुत कीमती संसाधन मिला है: समय के रूप में. इसका इस्तेमाल कर अपनी रणनीतियों और पोर्टफोलियो की समीक्षा करे.

2. अपने सभी लागत और ऊपरी खर्चों के रीसेट बटन दबाएं और उनका नए सिरे से अनुमान लगाएं.

3. आपके सहयोगियों के पास भी ज्यादा समय होगा: अपने कारोबार में सुधार के लिए उनके विचारों से अवगत हों.

4. इस सुस्ती के दौर का इस्तेमाल अपने ग्राहकों के साथ ज्यादा गहरा व्यक्तिगत रिश्ता बनाने के लिए करें.

5. कोई नहीं जानता ​कि यह दौर कब तक चलेगा, लेकिन अपने कारोबार में यू या वी शेप रिकवरी के लिए तैयार रहें!

गौरतलब है कि दुनिया भर के देशों के लिए मुसीबत बन चुके कोरोना वायरस से 7000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. दुनिया के 160 से ज्यादा देशों में लोग कोरोना से संक्रमित हैं. विश्व में कुल 1,82,547 लोग कोरोना की चपेट में हैं. भारत में कोरोना के 126 मामले सामने आए हैं. वहीं, इटली में एक दिन में 349 लोगों की जान चली गई है.