पीएम नरेंद्र मोदी ने किया बिहार की जनता को नमन, कहा- अभी से कर ली 'जनता कर्फ्यू' की तैयारी


पीएम नरेंद्र मोदी कोरोना वायरस को लेकर काफी चिंतित हैं. उन्‍होंने इस बीमारी को वैश्‍विक बताते हुए गुरुवार की रात देश के नाम संबोधित भी किया और जनता से मार्मिक अपील भी की. उन्‍होंने जनता कर्फ्यू पर जोर दिया। कहा कि रविवार 22 मार्च को सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक जनता कर्फ्यू लगाए. वहीं, शुक्रवार को इसे लेकर बिहार की जनता को नमन भी किया है.
 

पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को ट्वीट कर कहा कि बिहार की जनता को नमन, जिन्होंने अभी से 'जनता कर्फ्यू' की तैयारी कर ली है...' दरअसल, बिहार में पीएम नरेंद्र मोदी के जनता कर्फ्यू के आह्वान का जोरदार स्‍वागत किया है. जनता ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ हूं. इसे लेकर सोशल मीडिया पर यूजर्स अभियान चला रहे हैं कि आई सपोर्ट जनता कर्फ्यू. 

कोरोना वायरस के खिलाफ बिहार की तैयारी को लेकर पीएम मोदी काफी उत्‍साहित हैं. इसके बाद शुक्रवार को उन्‍होंने बिहार की जनता को प्रोत्‍साहित करते हुए उन्‍हें नमन किया है. जनता को बधाई दी है. पीएम मोदी ने लोगों के साथ ही राज्‍य सरकारों से भी आग्रह किया था कि जनता क‌र्फ्यू में वे सब मदद करें. उन्‍होंने लोगों से अपील भी की थी कि जनता कर्फ्यू के दौरान शाम पांच बजे पांच मिनट के लिए ताली या थाली बजाकर इस संकट के समय काम करने वाले लोगों को प्रोत्‍साहित करें. उन्‍होंने इस संकट की घड़ी में डाॅक्टरों, मीडिया, होम डिलीवरी करने वाले कर्मियों आदि के कार्यों की प्रशंसा की थी. उन्‍होंने यह भी कहा कि यह जनता क‌र्फ्यू तय करेगा कि हम कोरोना वायरस से लड़ाई के लिए कितने तैयार हैं.

बता दें कि पीएम मोदी को बिहार से काफी लगाव रहा है. इसके पहले उन्‍होंने हूनर मेला में पहुंच कर बिहार की लिट्टी-चोखा की प्रशंसा की थी. उसके बाद मन की बात में पूर्णिया के सिल्‍क की प्रशंसा की थी. अब एक बार फिर बिहार जनता कर्फ्यू को लेकर चर्चा में आ गया है. 

गौरतलब है कि कोरोना वायरस को लेकर बिहार की जनता पूरी तरह अलर्ट है. इसके साथ ही सरकार भी काफी सतर्क है. पूरे मामले की सीएम नीतीश कुमार खुद मॉनिटरिंग कर रहे हैं। स्‍कूल-कॉलेज से लेकर कोचिंग संस्‍थान व मॉल को 31 मार्च तक बंद कर दिया गया है. बिहार सरकार की ओर से जहां एडवाइजरी जारी कर दी गई है, वहीं सरकारी कार्यालयों के लिए भी दिशा-निर्देश जारी कर दिए गए हैं. कई मंदिरों में भी दर्शन पर रोक लगा दी गई है, जबकि पटना के फेमस महावीर मंदिर में घंटी पर राेक लगा दी गई है. 31 मार्च तक केवल ऑनलाइन पूजा होगी। हालांकि, महावीर मंदिर में दर्शन पर किसी तरह की रोक नहीं है.