Delhi Violence: कॉन्सटेबल रतन लाल के परिवार को AAP-BJP देगी एक-एक करोड़ और नौकरी


नॉर्थ-ईस्ट दिल्ली में भड़की हिंसा में जान गंवाने वाले हुए दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल के परिवार को केजरीवाल सरकार ने मुआवजा देने का ऐलान कर दिया है. आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार ने कहा कि हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल के परिवार को एक करोड़ रुपये मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाएगी.

वहीं, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने भी दिल्ली हिंसा में जान गंवाने वाले दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल के परिवार को एक करोड़ रुपये और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की घोषण की है.

आम आदमी पार्टी की ओर दिल्ली के सीएम केजरीवाल ने विधानसभा में मुआवजे का ऐलान किया, जबकि बीजेपी की ओर से पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने ऐलान किया. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, 'मैं दिल्ली पुलिस के हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल के परिवार को आश्वासन देना चाहता हूं कि हम आपका ख्याल रखेंगे. हम आपको एक करोड़ रुपये का मुआवजा और आपके परिवार के एक सदस्य को नौकरी देंगे.'


आपको बता दें कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में सोमवार को भड़की हिंसा के दौरान हेड कॉन्स्टेबल रतन लाल ड्यूटी पर तैनात थे. इस दौरान मौजपुर इलाके में हजारों लोग सड़कों पर उतरे और पत्थरबाजी व आगजनी करने लगे. इस हिंसा को रोकने के लिए रतन लाल ड्यूटी पर थे और इसी दौरान वो घायल हो गए थे. पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में खुलासा हुआ कि रतन लाल की मौत गोली लगने से हुई थी.

जिस वक्त रतन लाल दिल्ली में हिंसा को रोकने के लिए ड्यूटी पर थे, तब वो बुखार से तप रहे थे लेकिन इसके बावजूद वो अपनी ड्यूटी पर तैनात रहे. रतन लाल अपने पीछे परिवार में पत्नी पूनम, दो बेटी और एक 9 साल का बेटा छोड़ गए हैं.