कैलाश विजयवर्गीय ने कहा- बंगाल में कानून व्यवस्था संभाल नहीं पा रही ममता बनर्जी


भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और बंगाल के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय नागरिकता कानून के प्रचार प्रसार के दौरान कहा कि देश किसी व्यक्ति और परिवार की जागीर  नहीं है. देश में कुछ नेताओं की  मानसिकता रही है यह उन्हीं का देश है और वह जैसा चाहेंगे उसे चलाएंगे. अब यह नहीं होने वाला है. देश संविधान से चलता है और जरूरत पड़ने पर समय-समय पर संविधान में संशोधन किया जाता है इसके लिए सदन के दोनों हाउस के सांसदों द्वारा इसे पारित कर राष्ट्रपति के पास भेजा जाता है.

नागरिकता कानून इसी प्रक्रिया के तहत देश में कानून बना है इसे नहीं मानना पूरी तरह असंवैधानिक है. ममता बनर्जी का नाम लेते हुए उन्होंने कहा किस प्रकार बंगाल में विधानसभा में इस कानून के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया गया असंवैधानिक है. पारित प्रस्ताव को राज्यपाल के पास मंजूरी के लिए भेजा जाएगा और राज्यपाल जानते हैं कि संवैधानिक है. उसका अनुमोदन नहीं करेंगे ऐसी स्थिति में यह सिर्फ वोट बैंक पॉलिटिक्स छोड़कर और कुछ नहीं है.

नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन और मुर्शिदाबाद में हिंसा में मारे गए 2 लोगों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि कानून व्यवस्था राज्य सरकार की जिम्मेदारी है जिस प्रकार पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था लगातार बिगड़ती जा रही है. उससे यह कहना कोई गलत नहीं होगा कि कानून व्यवस्था संभालने में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पूरी तरह विफल है उन्होंने लोगों से कहा कि वोट बैंक के लिए कहा जा रहा है.

मोदी सरकार देश से मुसलमानों को निकाल बाहर करेगी मेरा मानना है मोदी सरकार देश के मुसलमानों को देश के किसी भी नागरिक को कभी भी निकाल बाहर नहीं करेगी नागरिकता कानून लाने के पीछे सरकार की मंशा रही है कि देश बटवारा के पहले जो हिंदू प्रताड़ित होकर भारत में लौटे हैं. उन्हें सम्मान के साथ उन्हें नागरिकता नरेंद्र मोदी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के उन सपनों को साकार करने में लगे हैं जो सपना देश बटवारा के बाद कांग्रेस की पहली बैठक में पाकिस्तान में रह रहे हिंदू को सम्मान देने की बात कहा गया था आज महात्मा गांधी की पुण्यतिथि है और मेरा मानना है यह भारतीय जनता पार्टी सरकार द्वारा लाया गया नागरिकता कानून उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी.

सिलीगुड़ी नगर निगम चुनाव को लेकर पूछे गए प्रश्न के जवाब में कहा कि अगर यहां निष्पक्ष चुनाव हुआ तो नगर निगम बोर्ड भारतीय जनता पार्टी की झोली में जाएगी निष्पक्ष नाम नहीं होने पर बोर्ड कोई भी बना सकता है. विधान मार्केट जो 9 एकड़ में फैला हुआ है की  बात करते हुए विजयवर्गीय ने कहा कि इस जमीन की समस्या आ सवाल है काफी पुरानी है. इसके लिए व्यापारी आगे बढ़े उन्हें हर संभव सहायता करेंगे.

कैलाश विजयवर्गीय अपने एकदिवसीय दौरे के दौरान श्री प्रणामी मंदिर उद्घाटन समारोह को संबोधित करने के बाद नागरिकता का के समर्थन में लोगों के बीच जाकर परिचय देकर उन्हें समर्थन करने का आश्वासन लिया उसके बाद सीधे बागडोगरा एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गए वहां से वे कोलकोता जाएंगे कैलाश विजयवर्गी के दौरे के समय ज्यादातर नेता उपस्थित थे.