About Me

header ads

सपना चौधरी को नहीं मिला दिल्ली से टिकट, अब करेंगीं प्रचार


दिल्ली विधानसभा चुनाव-2020 के लिए भारतीय जनता पार्टी सभी सीटों पर उम्मीदवारों का एलान कर चुकी है, लेकिन हरियाणी सिंगर-डांसर सपना चौधरी को दिल्ली की किसी भी सीट से टिकट नहीं मिला है. ऐसे में वह अब सिर्फ दिल्ली में चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों के पक्ष में चुनाव प्रचार करेंगीं.

बता दें कि इससे पहले हरियाणा विधानसभा चुनाव-2019 में भी सपना चौधरी को टिकट नहीं मिला था. तब इसकी चर्चा भी हुई थी, क्योंकि माना जा रहा है कि हरियाणा में टिकट पाने की चाहत के चलते ही सपना चौधरी ने जुलाई, 2019 में भारतीय जनता पार्टी की बाकायदा सदस्यता ली थी. वहीं, टिकट तो उन्हें नहीं मिला था, लेकिन निर्दलीय प्रत्याशी गोपाल कांडा के समर्थन में प्रचार कर भाजपा को चौंका दिया था, हालांकि मनोज तिवारी जैसे वरिष्ठ नेताओं के कहने पर उन्होंने प्रचार तुरंत रोक लिया था.

दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी और सपना चौधरी की नजदीकी किसी से छिपी नहीं है. कई मौकों पर दोनों एक-दूसरे की तारीफ भी कई बार कर चुके हैं. कहा तो यह भी जाता है कि मनोज तिवारी ही सपना चौधरी को भाजपा में लेकर आए हैं.

भाजपा ज्वाइन करने के दौरान सपना चौधरी ने मीडिया से मुखातिब होने के दौरान कहा था कि उनके भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन करने के पीछे कोई बड़ी वजह नहीं है और न ही किसी डील की वजह से पार्टी ज्वाइन की है. तब उन्होंने कहा था कि उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व पर भरोसा है. भाजपा के संगठन और केंद्र सरकार के काम से वह प्रभावित थी, इसलिए उन्होंने भाजपा ज्वाइन की.