About Me

header ads

सुब्रमण्यम स्वामी की सलाह- नोट पर छापें लक्ष्मी की फोटो, रुपये में होगा सुधार


भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने डॉलर के मुकाबले गिरते रुपए को लेकर अजीबोगरीब बयान दिया है. उन्होंने भारतीय करेंसी की स्थिति को सुधारने के लिए बैंक नोट में धन की देवी लक्ष्मी की तस्वीर छापने की वकालत की है.

मध्य प्रदेश के खंडवा में ‘स्वामी विवेकानंद व्याख्यानमाला’ विषय पर भाषण देने के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि वो नोट में धन की देवी लक्ष्मी की तस्वीर छापने के पक्ष में हैं.'

इंडोनेशिया की करेंसी पर भगवान गणेश की तस्वीर छापने के सवाल पर सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, ‘इस सवाल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जवाब दे सकते हैं. हालांकि जहां तक मेरी बात है, तो मैं इसके पक्ष में हूं. भगवान गणेश बाधाओं को दूर करते हैं. मेरा तो यह कहना है कि धन की देवी लक्ष्मी की तस्वीर बैंक नोट में छापने से भारतीय करेंसी की स्थिति में सुधार हो सकता है. इस पर किसी को बुरा नहीं मानने की जरूरत नहीं है.’

इस दौरान बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने नागरिकता संशोधन अधिनियम (सीएए) पर भी अपनी बात रखी. उन्होंने कहा कि नागरिकता संशोधन अधिनियम में आपत्तिजनक कुछ भी नहीं हैं. इसके लिए कांग्रेस और महात्मा गांधी ने खुद नागरिकता संशोधन कानून के लिए अपील की थी.

स्वामी ने कहा, ‘साल 2003 में संसद में कांग्रेस नेता और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने पाकिस्तान के अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने की अपील की थी. हम तो इसको लेकर आए हैं. अब कांग्रेस इसको स्वीकार नहीं कर रही है और कह रही है कि हमने पाकिस्तान के मुसलमानों के साथ अन्याय किया है. मेरा सवाल है कि इसमें क्या अन्याय हुआ? पाकिस्तान के मुसलमान यहां नहीं आना चाहते हैं. हम उनको यहां आने के लिए मजबूर भी नहीं कर सकते हैं.’

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी हमेशा अपने बयानों को लेकर मीडिया की सुर्खियों में रहते हैं. इससे पहले उन्होंने अपने संबोधन के दौरान कहा कि ब्राह्मणों और दलितों की तरह मुसलमानों और हिंदुओं का डीएनए भी एक है. स्वामी का यह भी दावा है कि यूनिफॉर्म सिविल कोड जल्द ही लाया जाएगा. सुप्रीम कोर्ट पिछले 70 वर्षों में कई बार यूनिफॉर्म सिविल कोड बनाने के लिए निर्देश दे चुका है. इसके अलावा संविधान के अनुच्छेद 44 में भी यूनिफॉर्म सिविल कोड बनाने का जिक्र किया गया है.

हिंदुस्तान की तेजी से बढ़ती जनसंख्या पर चिंता जताते हुए बीजेपी नेता ने कहा कि अगर इसी तरह जनसंख्या बढ़ती रही है, तो साल 2025 तक भारत सबसे ज्यादा जनसंख्या वाला दुनिया का देश बन जाएगा और चीन को पीछे छोड़ देगा.