यूएस और तालिबान के बीच फिर बातचीत शुरू, पाकिस्तान ने किया स्वागत


अमेरिका जल्द ही तालिबान के साथ वार्ता बहाल करेगा. अमेरिकी विदेशी विभाग से की गई इस घोषणा का पाकिस्तान गुरुवार को स्वागत किया है. इस दौरान अफगानिस्तान के अंदर वार्ता के लिए कदम उठाने और युद्ध का शांतिपूर्ण समाधान खोजने का प्रयास किया जाएगा.

पाकिस्तान के विदेश विभाग की तरफ से कहा गया है कि पाकिस्तान इसका स्वागत करता है और हमें आशा है कि इस वार्ता से अफगानिस्तान के अंदर वार्ता होगी और शांतिपूर्ण एवं स्थायी अफगानिस्तान का निर्माण होगा. बता दें कि पाकिस्तान की तरफ से यह बयान अमेरिकी विदेश विभाग द्वारा यूएस और तालिबान के बीच स्थगित वार्ता की बहाली की घोषणा के एक दिन बाद आया है. अमेरिका ने अपने बयान में कहा है कि अमेरिका जल्द ही दोहा में तालिबान के साथ बातचीत शुरू करेगा.

पाकिस्तान ने अपने बयान में आगे कहा है कि अफगानिस्तान संकट का सैन्य समाधान नहीं है. इसे एक समावेशी शांति और सुलह प्रक्रिया, जिसमें अफगान समाज के सभी खंड शामिल हों, उससे ही सुलझाया जा सकता है.

अफगानिस्तान पर बात करने के लिए अमेरिकी जलमय खलीलजाद कतर जाएंगे. इस दौरान वह तालिबान से अफगानिस्तान के अंदर वार्ता के लिए कदम उठाने और युद्ध का शांतिपूर्ण हल खोजने को कोशिश की जाएगी. खासतौर से हिंसात्मक घटनाओं में कमी लाने पर बातचीत की जाएगी ताकि युद्धविराम हो सके.