About Me

header ads

बंगालः कैलाश विजयवर्गीय की गाड़ी को भीड़ ने घेरा, बोले- विपक्षी नेताओं की जान खतरे में


भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के दिग्गज नेता और पश्चिम बंगाल में पार्टी के केंद्रीय पर्यवेक्षक कैलाश विजयवर्गीय के काफिले को पश्चिम बंगाल के नवग्राम इलाके में भीड़ ने घेर लिया. उनका आरोप है कि उनकी गाड़ी के दोनों तरफ भीड़ जमा है, साथ ही उनकी गाड़ी को घेर लिया गया है. इस संबंध में प्रशासन भी कोई सुनवाई नहीं कर रहा.

कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर कहा कि मुर्शिदाबाद जाते हुए मुझे नवग्राम के पास बड़ी भीड़ ने घेर लिया है. मेरी गाड़ी के दोनों तरफ भीड़ जमा है. प्रशासन कोई सुनवाई नहीं कर रहा! SP और DG भी फोन नहीं उठा रहे! पश्चिम बंगाल में अराजक सरकार के रहते कुछ भी हो सकता है! यहां किसी की जान सुरक्षित नहीं है!

बीजेपी नेता ने कहा कि पश्चिम बंगाल में अराजक सरकार के रहते कुछ भी हो सकता है, यहां किसी की जान सुरक्षित नहीं है. बाद में उनके सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें किसी तरह सुरक्षित बाहर निकाल लिया. कैलाश विजयवर्गीय मुर्शिदाबाद जा रहे थे. उन्होंने कहा कि पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था की स्थिति इतनी बिगड़ चुकी है कि विपक्ष के नेताओं की जान सुरक्षित नहीं कही जा सकती.

प्रशासन ने जानबूझकर लगाया जामः कैलाश

बंगाल में पार्टी के केंद्रीय पर्यवेक्षक कैलाश विजयवर्गीय ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा कि आज मुर्शिदाबाद का अधिकांश रास्ता ट्रकों के कारण बंद है. ये स्वाभाविक जाम नहीं है, बल्कि प्रशासन ने हमारे रास्ते को रोकने के लिए ट्रकों को रुकवा दिया है. ये सीधे-सीधे सरकार की साजिश है कि हम समय पर मुर्शिदाबाद न पहुंच पाएं!

अपने तीसरे ट्वीट में कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि हम जिस भी रास्ते से गुजर रहे हैं, वहां पुलिसवालों ने ममता बनर्जी के कहने पर ट्रकों से जाम लगा दिया है. बिना किसी कारण के लंबी-लंबी लाइनें लगी है. ड्राइवरों को ट्रकों से उतारकर भगा दिया गया है, ताकि जाम जल्दी न खुले! पूरी साजिश नजर आ रही है.

कैलाश विजयवर्गीय को मुर्शिदाबाद नहीं जाने देने की साजिश पर पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी बंगाल सरकार पर हमला बोलते हए कहा कि गुंडे-बदमाशों को ममता दीदी का विशेष संरक्षण प्राप्त है! बंगाल में एक जनप्रतिनिधि की सुरक्षा के यदि ये हाल हैं तो आम जनता की सुरक्षा तो भगवान भरोसे ही होगी. ऐसे जंगलराज को अब कुचलने के समय आ गया है! आशा है कि कैलाश विजयवर्गीय जी सकुशल होंगे.