About Me

header ads

अनु मलिक के बयान पर भड़कीं सिंगर सोना मोहपात्रा, कहा- तुम्हें टीवी पर रहने का हक नहीं


म्यूजिक कंपोजर अनु मलिक ने गुरूवार को अपने ऊपर लगे #MeToo के आरोपों और टीवी पर बतौर जज वापसी के बारे में बात की थी. अनु ने ट्विटर पर एक ओपन लेटर पोस्ट कर अपने ऊपर लगे आरोपों को झुठला दिया था. अनु मलिक के इस लेटर के सामने आने के बाद सिंगर सोना मोहपात्रा ने रिएक्शन दिया है.

सोना मोहपात्रा, अनु मलिक के बयान से बिल्कुल खुश नहीं हैं. साल 2018 में सोना मोहपात्रा, नेहा भसीन और इंडियन आइडल की पूर्व प्रोड्यूसर डानिका डीसूजा संग अन्य महिलाओं अनु मलिक पर यौन शोषण के आरोप लगाए थे. अपने ओपन लेटर में अनु मलिक ने लिखा है कि वे झूठे आरोपों से परेशान हैं और अगर ऐसे  ही उनके बारे में झूठी अफवाह उड़ती रही तो वे कोर्ट तक जाएंगे.

सिंगर सोना मोहपात्रा ने शुरू से ही अनु मलिक के इंडियन आइडल का दोबारा जज बनने के बाद से लगतार अपनी नाराजगी जताई है. अब उन्होंने अनु मलिक के नाम एक ओपन लेटर लिख दिया है. सोना ने अनु की बात का जवाब 8 पॉइंट्स में दिया है. अनु ने अपने लेटर में किसी का नाम नहीं लिया लेकिन सोना ने अपने लेटर में अनु मलिक का नाम साफ तौर पर लिखा है.

सोना मोहपात्रा ने लिखा, 'श्वेता पंडित ने अपने ट्रॉमा के बारे में बताया और बताया कि कैसे वो 15 साल की उम्र में दर्द से गुजरी थी. इंडियन आइडल की पूर्व प्रोड्यूसर डानिका डीसूजा ने बताया कि कैसे तुमने अपने क्रू और कंटेस्टेंट्स का शोषण किया. कारालीसा मोंटेरो ने भी आवाज उठाई. नेहा भसीन ने कुछ दिन पहले ही तुम्हारे साथ हुई अपनी आप-बीती बताई है. इसके अलावा बहुत सी और महिलाएं जो आज फेमस नहीं हैं, उन्होंने भी तुम्हारा सच खुलकर बताया है. अलीशा चिनॉय ने भी अपना सच बताया. ये महिलाएं एक-दूसरे से जुड़ी हुई नहीं हैं या फिर इन्हें तुम जैसे बेहूदे इंसान के बारे बात करके कोई फायदा नहीं मिलने वाला है.'

अनु मलिक ने अपने लेटर में लोगों पर सवाल उठाते हुए लिखा था, 'इस बारे में पहले क्यों नहीं बोला गया? ये आरोप मुझपर तब क्यों लग रहे हैं जब मैं टीवी पर वापस आ गया हूं और जब टीवी ही मेरी रोजी-रोटी है?'

इन सवालों का जवाब देते हुए सोना ने कहा कि अनु मलिक को टीवी पर आने का कोई हक नहीं है और उन्हें ब्रेक लेकर सेक्स रिहैब में चले जाना चाहिए. सोना ने लिखा, 'अब जब तुम टीवी पर आ गए हो तो हम बातें क्यों कर रहे हैं तुम पूछ रहे हो? जब तक तुम अपने किए का पश्चाताप नहीं कर लेते तुम्हें नेशनल टीवी पर होने का कोई हक नहीं है. भारत में 1.3 करोड़ लोग रहते हैं. हर किसी को जिंदा रहने के लिए टीवी पर करोड़ों कमाने की जरूरत नहीं है या फिर यंग लोगों को 'जज' करने की जरूरत नहीं है, जिनकी सेफ्टी तुम खराब करोगे. तुम कोई रोल मॉडल नहीं हो. तुम ब्रेक ले सकते हो, सेक्स रिहैब जा सकते हो या फिर कहीं भी अपने बर्ताव को बेहतर बनाना सीख सकते हो.'

इसके साथ ही सोना ने कहा, 'और हां, कृपया कोर्ट जाइए. मैं आग्रह करती हूं कि जाइए. सिर्फ ये 10 किस्से ही नहीं बल्कि इससे 10 गुना और किस्से हम दुनिया को देखने के लिए सामने लेकर आएंगे. भारत के लिए एक मिसाल कायम करते हैं, मिस्टर अनु मलिक. इस बात का ध्यान देते हैं कि तुम्हारे जैसा व्यवहार कोई और इंसान दशकों तक ना करे.'