दिल्‍ली एयरपोर्ट से फर्जी पायलट गिरफ्तार, प्‍लेन से यात्रियों को उतारा


दिल्‍ली एयरपोर्ट की सुरक्षा में लगे सीआइएसएफ (CISF) ने मंगलवार की शाम एक बड़ा हादसा होने बचा लिया है. इंदिरा गांधी एयरपोर्ट पर से सीआइएसएफ के जवानों ने एक फर्जी पायलट को गिरफ्तार करने में सफलता पाई है. यह फर्जी पायलट बड़े ही शातिराना तरीके से एयरपोर्ट पर इंट्री करने की जुगत में था. हालांकि समय रहते इसे गिरफ्तार कर बड़ा हादसा टाला गया है. अगर यह इंट्री लेने के बाद अंदर किसी प्‍लेन में चला जाता तो शायद किसी बड़े हादसे से इनकार नहीं किया जा सकता था.

टला हादसा

मिली जानकारी के अनुसार लुफ्थांसा एयरलाइंस के चीफ सिक्‍युरिटी ऑफिसर आदित्‍य सिंह ने सीआइएसएफ को बताया कि एक शख्‍स लुफ्थांसा एयरलाइंस के प्‍लाइट कैप्‍टन के गेटअप में एयरपोर्ट पर इंट्री लेने की फिराक में है. उसके पास एक फर्जी आइकार्ड भी था जो लुफ्थांसा एयरलाइंस के जैसा दिख रहा था.

सूचना मिलते ही चौकस हुए अधिकारी 

सूचना मिलते ही वहां सुरक्षा अधिकारी चौकस हो गए. तुरंत छानबीन शुरू कर उस संदेहात्‍सपद शख्‍स को खोजा गया। वह बोर्डिंग गेट नंबर 52 के पास दिखा. इसके बाद हरकत में आए सुरक्षा कर्मियों ने उसे घेर कर पकड़ लिया. जांच के बाद शख्‍स की पहचान वसंतकुंज निवासी राजन के रूप में हुई है. उसके पास से मिले वोटर आइकार्ड से उसकी पहचान हुई. हालांकि आरोपी के इस तरह से एयरपोर्ट पर घुसने की मंशा अभी तक पता नहीं लगी है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है.

यूट्यूब पर बनाता है वीडियो

पूछताछ में पता चला कि वह यूट्यूब पर वीडियो बनाता है. इस आरोपित का वीडियो विमानों की सुविधा पर होता है. इसके लिए उसने बैंककाक से लुफ्थांसा का फर्जी आइकार्ड बरामद कर लिया था. इसकी हरकतों के कारण सुरक्षा के लिहाज से प्‍लेन को खाली करा लिया गया था. पुलिस पूरे प्‍लेन की जांच कर रही है.