About Me

header ads

West Bangal: छह वर्ष की लंबी अवधि के बाद, महंगी हो जाएगी कोलकाता मेट्रो की यात्रा


छह वर्ष की लंबी अवधि के बाद रेलवे ने कोलकाता मेट्रो ट्रेन का किराया बढ़ाने की मंगलवार को घोषणा कर दी. हालांकि यात्री किराये को सीधे तौर पर नहीं बढ़ाया गया, बल्कि किलोमीटर में कटौती कर किराया वृद्धि की गई है. किलोमीटर व किराये के नए स्लैब पांच दिसंबर से लागू हो जाएगा. इससे मेट्रो यात्रियों की जेब पर पांच रुपये के अब अतिरिक्त बोझ पड़ेगा.

सूत्रों के अनुसार कोलकाता मेट्रो रेलवे में सात नवंबर 2013 में यात्री किराये में वृद्धि की थी. उसके बाद से ही मेट्रो भाड़ा जस का तस चल रहा था. रेलवे ने कई मर्तबा यात्री किराया को बढ़ाने पर मंथन भी किया था लेकिन उस पर निर्णय नहीं लिया जा सका था. इसी वर्ष एक बार फिर रेलवे द्वारा मेट्रो किराया बढ़ाए जाने की चर्चा ने जोर पकड़ना शुरू कर दिया था. ठीक उसी बीच सेक्टर फाइव से साल्टलेक स्टेडियम तक शीघ्र शुरू होने वाले ईस्ट-वेस्ट मेट्रो के प्रथम चरण का यात्री किराया भी निर्धारित कर दिया गया था जिसमें दो किमी तक 5 रुपये, 2-5 किमी तक 10 रुपये, 5-10 किमी तक 20 रुपये तथा 10-16.5 किमी तक का भाड़ा 30 रुपये रखा गया है. मेट्रो रेलवे ने भी आखिरकार यात्री किराया में वृद्धि कर दी.

हालांकि रेलवे ने मेट्रो यात्री के किराये को सीधे तौर पर तो नहीं बढ़ाया लेकिन वर्तमान किराये में तय होने वाली दूरी में कटौती कर दी या यूं कहिये की किमी के जरिए यात्री किराये को बढ़ा दिया गया. इसका असर तो यात्री के जेब पर ही पड़ना है। यात्रियों का कहना है कि यदि भाड़ा में वृद्धि करता है तो सर्विस भी बेहतर देनी होगी. आए दिन मेट्रो में उत्पन्न होने वाली समस्याओं से निजात दिलाना होगा.