About Me

header ads

बाढ़ से बेहाल पटना, नीतीश बोले- मुझे डुबाने के लिए जो करना है, वो करिए


बिहार इन दिनों बारिश और बाढ़ की मार से जूझ रहा है. नीतीश कुमार ने बाढ़ की वजह से बेहाल प्रदेश के हाल पर कहा कि आज दुनिया के साथ बिहार में भूजल का स्तर नीचे जा रहा है. लेकिन बिहार में अचानक अतिवृष्टि हुई है. बिहार में मौसम की वजह से सूखे जैसे हालात बने, अचानक भारी बारिश होने लगी.

उन्होंने कहा कि इस साल जुलाई में 12 से 13 जिलों में बाढ़ के हालात बने जिसके बाद गंगा का जलस्तर अचानक से बढ़ गया. लगातार हो रही बारिश की वजह से पटना में बाढ़ के हालात पैदा हो गए.

नीतीश कुमार ने कहा कि आज के वक्त में जो काम नहीं करता है, वह खूब प्रचार करवाता है. उन्होंने कहा कि मेरे जैसे व्यक्ति को डुबाने के लिए जो करना है करिए लेकिन जिस तरह की भाषा का इस्तेमाल किया जा रहा है, हर चीज की एक मर्यादा होती है, जिसका ख्याल रखना चाहिए.

नीतीश कुमार ने कहा कि इस साल गंगा नदी का जलस्तर ऊंचा हो गया है. हमारा जन्म गंगा नदी के किनारे हुआ लेकिन हमारे घर के पास कभी पानी नहीं आया, लेकिन इस बार आ गया.

उन्होंने कहा कि 3 से 4 दिन लगातार बारिश हुई है. इस बारे में कोई सोच नहीं सकता, पटना के कुछ इलाके से पानी चला गया है, लेकिन कुछ इलाकों में पानी अभी भी है. राहत का काम किया जा रहा है. पर्यावरण का संकट पैदा हो रहा है.