About Me

header ads

कोलकाता में सॉल्टलेक के शॉपिंग मॉल में भीषण आग, कई गाड़ियां जलीं


दुर्गापूजा की खरीदारी के बीच गुरुवार यानी महामंचमी के दिन सॉल्टलेक के बैशाखी मोड़ में स्थित एएनपी मॉल में भीषण आग लग गई. इस अग्निकांड में बेसमेंट में खड़ी कई गाड़ियां जल कर राख हो गई. मौके पर पहुंचे अग्निशमन विभाग के नौ इंजन तीन घंटे के मशक्कत के बाद आग पर काबू पा सके. प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो फायर अलार्म बजने के बावजूद बेसमेंट में पानी नहीं होने के कारण आग भड़क उठी. उधर, आग की सूचना पाकर मंत्री सुजीत बसु भी मौके पर पहुंच गए. उन्होंने हालात का जायजा लिया और लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की.

जानकारी के मुताबिक, एएनपी मॉल के बेसमेंट में मौजूद कथित रूप से गाड़ियों में वेल्डिंग का काम चल रहा था. अचानक चिंगारी निकली और आग लग गई. देखते ही देखते आग तेजी से भड़क गई और विकराल रूप धारण कर लिया. वहां मौजूद लोगों ने तुरंत इसकी सूचना पुलिस और अग्निशमन विभाग को दी. साथ ही, पूजा की खरीदारी में जुटे लोगों को तुरंत बाहर निकाल दिया गया. कुछ देर में ही एक-एक कर अग्निशमन के नौ इंजन मौके पर पहुंच गए और आग बुझाने में जुट गए. पर आग की लपटें और घने धुएं के कारण अग्निशमन कर्मी डेढ़ घंटे तक बेसमेंट में ही नहींप्रवेश कर सके.

इस बीच रुक-रुक कर कई धमाके भी हुए, जिसके बाद आग और भड़क उठी। बाद में घंटों अथक प्रयास के बाद अग्निशमन कर्मी बेसमेंट में प्रवेश किए और आग पर किसी तरह काबू पाया. इस हादसे में किसी के हताहत होने की खबर नहीं है, लेकिन काफी माल के जल जाने की आशंका जताई जा रही है.

सामान लेकर भागने को मजबूर हुए दुकानदार

बेसमेंट में आग लगने के कारण एएनपी मॉल में आतंक फैल गया. आग तेजी से फैलने लगा. यह देख वहां मौजूद दुकानदार थोड़े बहुत सामान किसी तरह निकाल कर बाहर की ओर भागे. हालांकि सुरक्षा कर्मी द्वारा बार-बार भीतर घुसने की कोशिश करने से रोकने पर कई दुकानदार उससे उलझ भी गए.

अग्निशमन के मानक पर खरा नहीं उतरा मॉल तो होगी कार्रवाई : मंत्री

लोगों द्वारा मॉल के बेसमेंट में फायर अलार्म बजने के बावजूद पानी नहीं होने के कारण आग बढ़ने की शिकायत मिलने के बाद मंत्री सुजीत बसु काफी नाराज दिखे. उन्होंने कहा कि पहली प्राथमिकता आग पर काबू पाना है. उसके बाद फॉरेंसिक टीम की मदद से घटना की जांच कराई जाएगी. इस दौरान मॉल प्रबंधन द्वारा अग्निशमन के नियमों का उल्लंघन और पानी नहीं होने की पुष्टि होती है तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

गौरतलब हो कि मौसम विभाग के क्षेत्रीय कार्यालय ने दुर्गापूजा में भी बारिश होने का अनुमान जाहिर किया था, जो सच भी हो रहा है. यही कारण है कि तृतीय से ही लोग प्रतिमा और पंडाल दर्शन के लिए घरों से निकलने लगे हैं. इसी खुमार में डूबे लोगों को गत सोमवार को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ा था, जब खिदिरपुर स्थित फैंसी मार्केट में भीषण आग लग गई थी. उस पर काबू पाने में अग्निशमन को काफी मुश्किलों का सामना भी करना पड़ा था.