About Me

header ads

9/11 पर बोले ट्रंप- हमारी जमीन पर हमला करने वाले को देते हैं करारा जवाब


वाशिंगटन के पेंटागन में '11 सितंबर ऑब्जरवेंस सेरेमनी' में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि अगर कोई हमारी जमीन पर हमला करता है तो हम उसे करारा जवाब देते हैं. ट्रंप ने कहा कि हम टकराव नहीं चाहते. लेकिन अगर कोई हमारी जमीन पर हमला करने की हिम्मत करता है तो हम अमेरिकी शक्ति से इसका पूरा जवाब देंगे और वो स्पिरिट बेजोड़ होगी.

अमेरिका ने आतंकियों के खिलाफ आज बड़ा फैसला भी किया है. अमेरिका ने प्रतिबंधित तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) के प्रमुख नूर वाली महसुद समेत 12 लोगों को वैश्विक आतंकवादी घोषित किया है और कई आतंकवादियों और उनके समर्थकों पर प्रतिबंध लगाया है.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 9/11 की बरसी से एक दिन पहले संदिग्ध आतंकवादियों और उन्हें वित्तीय सहायता पहुंचाने वाले लोगों और समर्थकों को पकड़ने के अपने प्रशासन की क्षमता में विस्तार करने के लिए एक कार्यकारी आदेश जारी किया.

अमेरिकी विदेश विभाग ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि महसुद के साथ विशेष रूप से नामित वैश्विक आतंकवादी (एसडीजीटी) की सूची में हिजबुल्ला, हमास, फिलिस्तीनी इस्लामिक जिहाद, आईएसआईएस, आईएसआईएस-फिलीपींस, आईएसआईएस-पश्चिमी अफ्रीका, तहरीक-ए तालिबान पाकिस्तान जैसे पूर्व नामित आतंकवादी संगठनों के नेता शामिल हैं.

 इन कार्रवाईयों के अलावा डिपार्टमेंट ऑफ ट्रेजरी ने आईएसआईएस-फिलीपींस, आईएसआईएस-खोरासान, अलकायदा, हमास और ईरान के इस्लामिक रिवोल्यूशनरी गार्ड कार्प्स-कुद्स फोर्स से जुड़े 15 आतंकवादियों को नामित किया है.

डॉन न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने एक प्रेस वार्ता में कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप का कार्यकारी आदेश अमेरिका के आतंकवाद विरोधी प्रयासों में और मजबूती लाएगा. पोम्पियो ने कहा कि यह आदेश आतंकवादी प्रशिक्षण में शामिल लोगों और समूहों को प्रभावी रूप से निशाना बनाएगा और विदेशी वित्तीय संस्थानों पर प्रतिबंध लगाने के लिए नए अधिकार मुहैया कराएगा जो जानबूझकर संदिग्ध आतंकवादियों के साथ व्यापार करते हैं.