About Me

header ads

15 दिन की आर्मी ट्रेनिंग पूरी कर कश्मीर से वापस लौटे महेंद्र सिंह धोनी


भारतीय क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी कश्मीर से अपनी 15 दिनों की आर्मी ट्रेनिंग से वापिस लौट आए हैं. महेंद्र सिंह धोनी 31 जुलाई से 15 अगस्त तक कश्मीर में तैनात थे. सेना में अपनी ट्रेनिंग के दौरान धोनी श्रीनगर, कुपवाड़ा, उरी और लेह में सेना के साथ रहे. अपनी ट्रेनिंग के दौरान धोनी ने एक जवान की तरह सुबह की पिटी परेड से लेकर ऑफिस ड्यूटी, हथियार चलाने की ट्रेनिंग और शाम को खेलकूद में हिस्सा लिया.

106 टेरिटोरियल आर्मी बटालियन (पैरा) का हिस्सा रहे महेंद्र सिंह धोनी अपनी ट्रेनिंग के दौरान गश्त, गार्ड और पोस्ट ड्यूटी करते नजर आए. 15 दिन की ट्रेनिंग में धोनी किसी रेग्यूलर ऑफिसर की तरह ही काम करते दिखे. उनकी जूते पोलिश करते हुए तस्वीर भी काफी वायरल हुई थी.

हाल ही में केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर को अनुच्छेद 370 के तहत मिलने वाले विशेषाधिकार खत्म कर दिए थे और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांट दिया है. जम्मू कश्मीर और लद्दाख को दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बना दिया गया है. ऐसे में दोनों नए केंद्र शासित प्रदेशों में पहली बार स्वतंत्रता दिवस मनाया गया. महेंद्र सिंह धोनी ने लद्दाख में स्वतंत्रता दिवस मनाया. लद्दाख में उन्होंने आर्मी जनरल अस्पताल का दौरा किया और मरीजों से बातचीत भी की.

धोनी प्रादेशिक सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल की मानद रैंक पर हैं. धोनी ने दो महीने पैराशूट रेजिमेंट को देने के लिये बोर्ड से ब्रेक मांगा था. आर्मी ट्रेनिंग की वजह से वह भारतीय टीम के वेस्टइंडीज दौरे का हिस्सा भी नहीं बने. धोनी ने टेरिटोरियल आर्मी में काम करने के लिए बीसीसीआई से दो महीने की छुट्टी ली थी. धोनी से 31 जुलाई को ड्यूटी संभाली थी और वे 15 अगस्त तक अपनी बटालियन के साथ लेह में रहे.