Bengal lockdown:बंगाल में लॉकडाउन को फिर 31 अगस्त तक बढ़ाया गया, फिलहाल नहीं चलेगी लोकल ट्रेनें

कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राज्य में लागू लॉकडाउन संबंधी पाबंदियों को गुरुवार को एक बार फिर 30 अगस्त तक बढ़ाने की घोषणा की। हालांकि रात के दौरान लागू प्रतिबंधों में कुछ ढील दी गई है, लेकिन लोकल ट्रेन सेवा पर पाबंदी अभी जारी रहेगी। ममता ने राज्य सचिवालय नवान्न में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा- बंगाल में कोविड की स्थिति बेहतर है लेकिन तीसरी लहर का खतरा अब भी है।

इसी कारणवश हमने लोकल ट्रेनों के परिचालन को बहाल करने की अनुमति नहीं दी है। उन्होंने कहा कि हमने कोविड पाबंदियों को और 15 दिन के लिए 30 अगस्त तक बढ़ा दिया है। हालांकि रात में लागू प्रतिबंधों में ढील दी जाएगी। उन्होंने कहा कि रात में पूर्ण लॉकडाउन (नाइट कर्फ्यू) की अवधि पहले रात नौ बजे से सुबह पांच बजे तक थी, जिसे अब रात 11 बजे से सुबह पांच बजे तक कर दिया गया है।

बता दें कि महामारी की दूसरी लहर में बंगाल में 16 मई से ही लॉकडाउन संबंधी पाबंदियां लागू है और इसे नियमित अंतराल पर कुछ छूटों के साथ बढ़ाया जा रहा था। इन प्रतिबंधों की समय सीमा 15 अगस्त को समाप्त हो रही थी। लोग उम्मीद कर रहे थे कि 15 अगस्त के बाद प्रतिबंधों से राहत मिल जाएगी और राज्य सरकार लोकल ट्रेनें चलाने की अनुमति देगी, लेकिन ममता ने इंतजार फिर बढ़ा दिया है।

वैक्सीन की कमी का मुद्दा फिर उठाया

मुख्यमंत्री ने इस दौरान एक बार फिर वैक्सीन की कमी का मुद्दा उठाया और कहा कि केंद्र की ओर से राज्य को टीके की जरूरत के अनुरूप खुराक नहीं मिल रहीं। उन्होंने कहा कि अगर हमें टीके मिलते तो हम ग्रामीण आबादी को कम से कम एक खुराक दे पाते और फिर हम लोकल ट्रेन बहाल कर सकते थे।

लेकिन, पर्याप्त आपूर्ति नहीं होने के कारण हम वैक्सीन नहीं दे पा रहे हैं, इस कारण लोकल ट्रेनों को फिर से चलाने की हम अनुमति नहीं दे रहे हैं, क्योंकि इससे मामला बढ़ेगा। मुख्यमंत्री ने साफ कहा कि जब तक कम से कम 50 फीसद लोगों का टीकाकरण नहीं हो जाता लोकल ट्रेन सेवा फिर से शुरू नहीं होंगी। उन्होंने साथ ही कहा कि सितंबर में कोरोना की तीसरी लहर आने की बात है। इसलिए कंट्रोल रखना होगा।

राज्य सरकार कोशिश कर रही है कि वैक्सीनेशन बढ़ाया जाए।कोलकाता के आसपास के जिलों में वैक्सीनेशन की संख्या बढ़ाई गई है। मेट्रो, ऑटो, बस अभी चल रहे हैं। मुख्यमंत्री ने दावा किया कि हम कोरोना को बहुत ही कंट्रोल कर पाए हैं। जब चुनाव हुए थे, तो संक्रमण दर 33 फीसद हो गया था। अभी 1.5 फीसद पर ले आए हैं। उन्होंने कहा कि बंगाल में कोरोना संक्रमण के मामले नहीं बढ़े हैं। 600 से 700 केस अभी रोजाना हो रहे हैं।

दुआरे सरकार में हुआ था 99 फीसद कार्य

ममता ने आगे कहा कि पिछली बार आयोजित दुआरे सरकार में 99 फीसद लोगों का काम हुआ था। 22 लाख जाति प्रमाणपत्र जारी हुआ था। उन्होंने फिर दोहराया कि अब हर साल दो बार दुआरे सरकार आयोजित होगा। आगामी 16 अगस्त से 15 सितंबर तक इसका आयोजन होगा। आठ सितंबर से 13 सितंबर के बीच आवेदन की जांच होगी। इसके तहत 17,107 शिविर लगाए जाएंगे। यह और भी बढ़ेगा, क्योंकि कई जिलों में अभी बाढ़ हैं। उन्होंने कहा कि 16 अगस्त से 31 अगस्त तक विभिन्न सरकारी योजनाओं के फार्म दिए जाएंगे। लक्खी भंडार योजना के लिए भी निःशुल्क फार्म दिए जा सकेंगे।

मुख्यमंत्री कार्यालय में सीधे फोन कर पाएंगे शिकायत

ममता ने यह भी कहा कि यदि किसी को भी कोई शिकायत है तो सीधे मुख्यमंत्री कार्यालय में 1070/22143526 पर फोन कर शिकायत कर सकते हैं। इसके 15 लाइन रहेंगे। जिस तरह से दीदी के बोलो में लोगों ने शिकायत की थी, उसी तरह से यदि कोई शिकायत है, तो मुख्यमंत्री कार्यालय से कर पाएंगे। शिकायत प्राप्त करते ही उसका समाधान किया जाएगा।