Indian Railways RCTC: रेलवे बोर्ड ने झारग्राम मेमू के परिचालन को दी मंजूरी, धनबाद से टाटानगर का सफर होगा आसान

तकरीबन डेढ़ साल से बंद धनबाद-झारग्राम मेमू जल्द पटरी पर लौटेगी। इसके साथ ही हावड़ा-रांची इंटरसिटी समेत कई पैसेंजर ट्रेनें भी चलेंगी। रेलवे बोर्ड ने इन ट्रेनों को मंजूरी दे दी है। जोनल रेलवे स्तर पर जल्द ही इन ट्रेनों के चलने की तारीख का एलान हो जाएगा। धनबाद-झारग्राम मेमू पैसेंजर के चलने से धनबाद से टाटा जाने वाले यात्रियों की मुश्किल काफी हद तक कम हो सकेगी। अभी बस से टाटा जाने के लिए 300 रुपये तक खर्च करना पड़ रहा है। मेमू पैसेंजर के चलने से कम खर्च में टाटा पहुंच सकेंगे। ट्रेन शनिवार को नहीं चलेगी। 

रांची-हावड़ा इंटरसिटी भी जल्द लाैटेगी पटरी पर

दूसरी ओर, रांची-हावड़ा इंटरसिटी के चलने से महुदा, बोकारो और चंद्रपुरा के यात्रियों को हावड़ा के साथ-साथ बंगाल के बांकुड़ा, विष्णुपुर, आद्रा, मेदिनीपुर और खड़गपुर तक पहुंचने के लिए सीधी ट्रेन मिल जाएगी। हावड़ा रांची इंटरसिटी रविवार , सोमवार और मंगलवार को दोनों ओर से चलेगी। कोरोना काल में बंद हुई ज्यादातर ट्रेनों के चलने के साथ ही रेलवे उनके टाइम टेबल में बदलाव कर रही है। ऐसे में हावड़ा-रांची इंटरसिटी के टाइम टेबल में भी बदलाव हो सकता है। हालांकि यह बदलाव आंशिक ही होगा। इन दोनों ट्रेनों के साथ ही आसनसोल-आद्रा, आद्रा-बरकाकाना और बोकारो-रांची पैसेंजर भी चलेगी। 

झारग्राम-धनबाद मेमू झारग्राम से सुबह 6:05 पर खुलेगी। सुबह 7:55 पर टाटानगर, दिन 11:48 पर बोकारो और दोपहर 2:00 पर धनबाद आएगी।

धनबाद-झारग्राम मेमू धनबाद से दोपहर 2:05 पर खुलेगी। शाम 4:21 पर बोकारो,

शाम 7:32 पर टाटानगर और रात 9:30 पर झारग्राम पहुंचेगी।

हावड़ा-रांची इंटरसिटी रांची से दोपहर 12:50 पर खुलेगी। खड़गपुर, मेदिनीपुर, बांकुड़ा होकर शाम 6:34 पर महुदा, 7:14 पर चंद्रपुरा, 7:50 पर बोकारो और रात 10:15 रांची पहुंचेगी।

रांची-हावड़ा इंटरसिटी रांची से सुबह 5:45 पर खुलेगी। सुबह 7:45 पर बोकारो, 8:23 चंद्रपुरा, 8:50 महुदा होकर दोपहर 3:15 पर हावड़ा पहुंचेगी। 

डीसी लाइन के कई हाल्टों पर नहीं रुकेगी धनबाद-झारग्राम मेमू

धनबाद-चंद्रपुरा रेल लाइन के कई हाल्ट पर धनबाद-झारग्राम मेमू पैसेंजर का ठहराव नहीं होगा। कम आमदनी के कारण रेलवे ने अक्टूबर 2019 में ही डीसी लाइन के अंगारपथरा, तेतुलिया, टुंडू, बुदौड़ा और जमुनी हाल्ट पर पैसेंजर ट्रेनों का ठहराव बंद कर दिया था। इस रेल मार्ग के कुछ और हाल्ट पर भी ठहराव हटाए जा सकते हैं। हालांकि आधिकारिक तौर पर अभी इसकी घोषणा नहीं हुई है।