Corona vaccine In Bengal: आंकडे़- देश के बड़े शहरों में कोलकाता में कोरोना टीकाकरण की दर सबसे अधिक

कोरोना टीकाकरण में कोलकाता नजीर पेश कर रहा है। देश के छह सबसे बड़े शहरों में कोलकाता में टीकाकरण की दर सबसे अधिक है। को-विन डैशबोर्ड एवं हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के जियोग्राफिक इनसाइट्स डेटावर्सने यह तथ्य उजागर किया है। 

सर्वेक्षण के मुताबिक अब तक कोलकाता के 61.8 फीसद लोगों को कोरोना का पहला टीका लग चुका है जबकि 21 फीसद लोगों का दूसरा टीका भी हो चुका है। इतने कम समय में टीकाकरण की यह उच्च दर 'सिटी ऑफ ज्वाय' के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। आंकड़ों के मुताबिक देश की राजधानी दिल्ली टीकाकरण के मामले में महागरों में सबसे पीछे है। वहां अब तक सिर्फ 35.1 फीसद लोगों को पहला और महज 11.1 फीसद लोगों को दूसरा टीका लगा है।

टीकाकरण दर के मामले में बेंगलुरु कोलकाता के बाद दूसरे स्थान पर है लेकिन वहां भी सिर्फ 14 फीसद लोगों को कोरोना का दूसरा टीका लग पाया है। पहला टीका 56.6 फीसद लोगों को लगा है। तीसरे स्थान पर हैदराबाद है, जहां 53.6 फीसद लोगों को पहला टीका लगा है। दोनों टीकि 13.4 फीसद लोगों को लगा है। चेन्नई में 51.8 फीसद लोगों को पहला टीका लगा है और 17.9 फीसद लोगों को दोनों टीका लग चुका है। मुंबई में 51.1 फीसद आबादी को पहला टीका लगा है। केवल 15.6 फीसद को ही दोनों टीका लगा है।

बंगाल सरकार इससे अभिभूत है। राज्य सरकार ने बार-बार शिकायत की थी कि केंद्र से उसे पर्याप्त टीका नहीं उपलब्ध कराया जा रहा। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस बाबत कई बार पत्र भी लिखा था। टीके की कमी के कारण कोलकाता में कई टीकाकरण केंद्रों को अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया था। इतनी प्रतिकूलताओं के बावजूद देश ने टीकाकरण दर के मामले में उच्चतम सफलता दर हासिल की है।