सरकारी ने जारी की GPF की नई ब्याज दरें, जानें अब कितना मिलेगा फायदा

सरकार ने सामान्य भविष्य निधि (GPF) और अन्य गैर-सरकारी पीएफ पर 7.1 फीसद की ब्याज दर घोषित की है। गैच्युटी फंड की ब्याज दर 7.1 फीसद है। वित्त मंत्रालय के तहत आने वाले आर्थिक मामलों के विभाग ने इस संबंध में एक आधिकारिक घोषणा की और कहा कि जीपीएफ और अन्य विशेष जमा योजना की ब्याज दर 7.1% है जो चालू वित्त वर्ष की जुलाई से सितंबर तिमाही के लिए लागू होगी।

इससे पहले सरकार ने अप्रैल से जून 2021 तिमाही के लिए समान ब्याज दर की घोषणा की थी। यह लगातार छठी तिमाही होगी जब जीपीएफ की ब्याज दर 7.1 फीसद होगी। अप्रैल 2020 में केंद्र सरकार ने GPF की ब्याज दर 7.9 फीसद से घटाकर 7.1 फीसद कर दी थी।

ये ब्याज दर लागू होगी

सामान्य भविष्य निधि (केंद्रीय सेवाएं)

अंशदायी भविष्य निधि

अखिल भारतीय सेवा भविष्य निधि

राज्य रेलवे भविष्य निधि

सामान्य भविष्य निधि (रक्षा सेवाएं)

Indian Ordnance Department Provident Fund

रक्षा सेवा अधिकारी भविष्य निधि

सशस्त्र बल कार्मिक भविष्य निधि

इस महीने की शुरुआत में सरकार ने जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए भी छोटी बचत योजना की ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया।

वित्त मंत्रालय की ओर से जारी कार्यालय ज्ञापन में कहा गया है कि वित्त वर्ष 2021-22 की दूसरी तिमाही के लिए 1 जुलाई 2021 से शुरू होकर 30 सितंबर 2021 को समाप्त होने वाली विभिन्न लघु बचत योजनाओं पर ब्याज दर पहले की तरह बनी रहेगी। सर्कुलर के अनुसार, पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) 7.10%, नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (NSC) पर 6.8% और पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम अकाउंट (POMIS) पर 6.6% की ब्याज दर मिलती रहेगी। डाकघर बचत खाते पर 4% ब्याज मिलता रहेगा।

पांच वर्षीय Recurring Deposit पर 5.8% ब्याज मिलता रहेगा। वरिष्ठ नागरिक बचत योजना की ब्याज दर 7.4% पर बिना बदलाव के है, जबकि सुकन्या समृद्धि योजना जमा पर 7.6% ब्याज मिलेगा। किसान विकास पत्र की ब्याज दर 6.9% है।