Kerala Lockdown: कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण केरल में लगाया गया लॉकडाउन

कोरोना के बढ़ते मामलों के कारण केरल में 8 मई से 16 मई की सुबह 6 बजे तक राज्य में लॉकडाउन का एलान किया गया है। यह घोषणा केरल के सीएम पिनाराई विजयन ने की। बुधवार को केरल में अब तक के सबसे अधिक 41,953 कोरोना के मामले दर्ज किए। मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने केरल की स्थिति को गंभीर बताया और कहा कि कोविड की वृद्धि को रोकने के लिए कड़े कदम उठाने होंगे। भारत में कोरोना वायरस के मामले हर दिन एक नया रिकॉर्ड तोड़ रहे हैं और बृहस्पतिवार को संक्रमण के 4,12,262 नए मामले दर्ज किए गए तथा 3,980 लोगों ने जान गंवाई। इसके साथ ही संक्रमण के कुल मामले 2,10,77,410 हो गए और मृतकों की संख्या 2,30,168 पर पहुंच गई।

पीएम मोदी ने की केरल सरकार के प्रयासों की प्रशंसा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टीके की बर्बादी को कम करने के केरल सरकार के प्रयासों की प्रशंसा की थी और कहा कि यह COVID-19 के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने में महत्वपूर्ण है। प्रधानमंत्री ने केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन का जिक्र करते हुए ट्वीट किया, 'अच्छा लग रहा है स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और नर्सों के काम को देखकर, जिन्होंने टीकों की बर्बादी को कम करते हुए एक उदाहरण हमारे सामने रखा है। कोविड के खिलाफ लड़ाई को मजबूत करने के लिए टीके की बर्बाती को कम करना बेहद ही महत्वपूर्ण है।'

केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने राज्य में कोरोना वायरस वैक्सीन की बर्बादी के आंकड़ों पर प्रकाश डाला। उन्होंने ट्वीट किया, 'केरल को केंद्र सरकार से वैक्सीन की 73,38,806 खुराक मिली है। हमने 74,26,164 खुराक प्रदान की है, प्रत्येक शीशी में व्यर्थ के रूप में बची अतिरिक्त खुराक का उपयोग कर रहे हैं। हमारे स्वास्थ्य कार्यकर्ता, विशेष रूप से नर्स ऐसे शुभ कार्य के लिए पूरी सराहना के पात्र हैं।'