भारत में इस्तेमाल होगी ब्रिटेन जा रही कोविशील्ड वैक्सीन की 50 लाख डोज, सरकार ने लिया बड़ा फैसला !

ब्रिटेन भेजी जा रही कोविशील्ड की 50 लाख डोज का इस्तेमाल अब भारत में 18 से 44 साल की उम्र के लोगों के टीकाकरण में होगा। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि सीरम इंस्टीट्यूट के सरकार एवं नियामकीय मामलों के डायरेक्टर प्रकाश कुमार सिंह ने स्वास्थ्य मंत्रालय को पत्र लिखकर इस संबंध में अनुमति मांगी थी। इस पर केंद्र सरकार ने 21 राज्यों व केंद्रशासित प्रदेशों को ये डोज आवंटित करने का फैसला किया है।

सीरम इंस्टीट्यूट ने एस्ट्राजेनेका से हुए समझौते के तहत ब्रिटेन को 50 लाख डोज भेजने के लिए 23 मार्च को मंत्रालय से अनुमति मांगी थी। इसमें कहा गया था कि इससे भारत में चल रहे टीकाकरण को प्रभावित नहीं होने दिया जाएगा। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि भारत में तेजी से बढ़ते मामलों को देखते हुए इन टीकों का इस्तेमाल भारत में किया जाएगा। मंत्रालय ने राज्यों को कंपनी से संपर्क कर टीका खरीदने को कहा है। संक्रमण की स्थिति को देखते हुए इन 50 लाख डोज में से कुछ राज्यों को साढ़े तीन लाख, कुछ को एक लाख लाख और अन्य को 50 हजार डोज का आवंटन किया गया है।

देश में कोरोना वैक्सीन की अब तक 16.71 करोड़ डोज लगाई गईं

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि देश में अब तक कोरोना रोधी वैक्सीन की 16.71 करोड़ डोज लगाई जा चुकी हैं। इसमें टीकाकरण अभियान के 112वें दिन शुक्रवार को 30 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में दी गईं कुल 21.27 लाख डोज भी शामिल हैं। इनमें से 18-44 साल आयुवर्ग के 2.96 लाख लोगों को पहली डोज लगाई गई। मंत्रालय ने बताया कि अब तक 16 करोड़ 71 लाख 64 हजार से ज्यादा डोज लाभार्थियों को दी जा चुकी हैं। लाभार्थियों में 45 से 60 साल आयुवर्ग के 5.46 करोड़ को पहली और 58.29 लाख को दूसरी डोज दी गई हैं। जबकि, 60 साल से ज्यादा उम्र के 5.34 करोड़ लोगों को पहली और 1.42 करोड़ लोगों को दूसरी डोज दी जा चुकी हैं।