Facebook के बाद अब LinkedIn से 50 करोड़ यूजर्स का डाटा हुआ लीक, जानें पूरी डिटेल


पिछले ​दिनों सोशल नेटवर्किंग साइट Facebook का डाटा चोरी होने के बाद यूजर्स केे बीच काफी हलचल मची हुई थी। उस दौरान 53.3 करोड़ यूजर्स का डाटा लीक हुआ था और इसमें 61 लाख भारतीय यूजर्स शामिल थे। वहीं अब डाटा लीक की एक और बड़ी खबर चर्चा में है और इस बार प्रोफेशनल नेटवर्किंग प्लेटफॉर्म LinkedIn के करीब 50 करोड़ यूजर्स का डाटा लीक हो गया है। रिपोर्ट के मुताबिक लीक डाटा को ऑनलाइन बेचा जा रहा है। 50 करोड़ यूजर्स के डाटा को कथित रूप से स्क्रैप किए गए अर्काइव को एक लोकप्रिय हैकर फोरम पर बिक्री के लिए रखा गया है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि इस हैक के पीछे शामिल लोगों ने लीक हुए डाटा में 20 लाख रिकॉर्ड को नमूने के तौर पर पेश किया है।

CyberNews की रिपोर्ट में जानकारी दी गई है कि LinkedIn यूजर्स के लीक हुए डाटा को ऑनलाइन बेचा जा रहा है। इस डाटा में यूजर्स का नाम, ईमेल आईडी, पता, फोन नंबर और वर्कप्लेस जैसी कई निजी जानकारियां शामिल हैं। इस डाटा को 2 मिलियन की कीमत में बेचा जा रहा है। रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि इस डाटा को हैकर ग्रुप आने वाले समय में अधिक कीमत में बेच सकता है। इसका मतलब है​ कि ये ग्रुप यूजर्स की निजी जानकारियों को बिटकॉइन के रूप में बेचेगा।

डाटा लीक के मामले में LinkedIn ने एक बयान में कहा कि उसने 'LinkedIn डाटा के एक कथित सेट की जांच की है जो बिक्री के लिए पोस्ट किया गया है और निर्धारित किया है कि यह वास्तव में कई वेबसाइट्स और कंपनियों के डाटा का एकत्रीकरण है और उनके प्लेटफॉर्म का इससे कोई लिंक नहीं है।' कंपनी ने यह भी कहा कि इसमें सार्वजनिक रूप से देखने योग्य सदस्य प्रोफाइल डाटा शामिल है जो LinkedIn से स्क्रैप किया गया प्रतीत होता है। यह LinkedIn डाटा उल्लंघन नहीं था, और LinkedIn से कोई भी निजी सदस्य अकाउंट डाटा शामिल नहीं था। जब कोई भी सदस्य डाटा लेने की कोशिश करता है तो हम इसकी सहमति नहीं देते और तुरंत उस पर रोक लगा देते हैं।'