Lalu Yadav: लालू यादव को हार्ट अटैक का खतरा... डॉक्टरों ने कही बड़ी बात...

 

Lalu Prasad Yadav Jharkhand News बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव को हार्ट अटैक का खतरा है। शुक्रवार को झारखंड हाई कोर्ट में दाखिल की गई मेडिकल रिपोर्ट में कहा गया है कि लालू को हार्ट अटैक की संभावना और किडनी फेल्‍योर के गंभीर खतरे के कारण ही बेहतर इलाज के लिए एम्‍स, दिल्‍ली भेजा गया है।

हाई कोर्ट के जस्टिस अपरेश कुमार सिंह की अदालत में चारा घोटाला के चार मामले में सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव के जेल उल्लंघन मामले में शुक्रवार को सुनवाई हुई। इस दौरान रिम्स निदेशक ने बिना शर्त माफी मांगते हुए लालू को एम्स भेजने के लिए बनी मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट अदालत में दाखिल कर दी है। अपर महाधिवक्ता आशुतोष आनंद ने अदालत को बताया कि मेडिकल रिपोर्ट में कहा गया है कि लालू प्रसाद को निमोनिया हो गया था।

इस रिपोर्ट के मुताबिक लालू प्रसाद यादव को हार्ट अटैक की संभावना और किडनी की बीमारी बढ़ने के कारण उन्हें बेहतर इलाज के लिए एम्स, दिल्‍ली भेजा गया है। रिम्स निदेशक ने रिपोर्ट में देरी होने कारण बताते हुए कहा है कि रिम्स के चिकित्सा अधीक्षक की मां की तबीयत खराब थी और बाद में उनका निधन हो गया था। इस वजह से लालू प्रसाद यादव की मेडिकल रिपोर्ट कोर्ट में भेजने में देरी हुई है।

अदालत ने निदेशक के माफीनामा को स्वीकार कर लिया। दरअसल, पिछली सुनवाई के दौरान मेडिकल रिपोर्ट दाखिल नहीं किए जाने पर कोर्ट ने नाराजगी जताते हुए रिम्स निदेशक को शो-कॉज जारी किया था और पूछा था कि अदालत के आदेश के बाद भी मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट अदालत में क्यों नहीं पेश गई है। इसके अलावा जेल आइजी की ओर से जेल मैनुअल में संशोधन की एसओपी अदालत में दाखिल की गई।

दोनों रिपोर्ट का अवलोकन करने के बाद उच्‍च अदालत ने लालू यादव के खिलाफ जेल मैनुअल उल्‍लंघन मामले में स्‍वत: संज्ञान लेकर की जा रही सुनवाई अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दी। इस दौरान लालू प्रसाद के अधिवक्ता देवर्षि मंडल ने बताया कि एम्स में लालू प्रसाद का इलाज हो रहा है। उनकी स्थिति में थोड़ा बहुत सुधार है। बता दें कि अदालत ने इस मामले में संज्ञान लेते हुए सुनवाई कर रहा है।

एम्‍स, दिल्‍ली में एक माह और इलाज करा सकेंगे लालू

रांची के बिरसा मुंडा जेल के अधीक्षक हामिद अख्तर ने बताया कि लालू प्रसाद यादव को अभी एक माह और दिल्‍ली एम्‍स में इलाज कराने की इजाजत दे दी गई है। जेल आइजी, झारखंड ने एम्‍स के डॉक्‍टरों की टीम को तीन से चार हफ्ते तक का वक्‍त उनकी गुजारिश पर दिया है। इससे पहले लालू का एम्‍स में इलाज कर रहे डॉक्‍टर ने उनकी हालत में सुधार होने में तीन से चार सप्‍ताह तक समय लगने की बात कही थी।

बता दें कि रांची के रिम्‍स में हालात बिगड़ने पर लालू प्रसाद यादव को एम्‍स दिल्‍ली में एक महीने के लिए आइजी जेल की तरफ से इलाज की अनुमति दी गई थी। अब लालू की तबीयत में हुई मामूली सुधार को देखते हुए एम्स के डॉक्टरों ने लालू प्रसाद यादव के इलाज के लिए तीन से चार हफ्ते का और समय मांगा है। जेल आइजी, झारखंड बिरेंद्र भूषण ने एम्‍स दिल्‍ली के आग्रह को स्वीकार कर लिया है। इस तरह लालू की इलाज की अवधि चार हफ्ते के लिए और बढ़ गई है।

ADVERTISEMENT