एक तरफ मुख्यमंत्री जी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देते हैं तो दूसरी तरफ इस तरह के हैवानियत पर भी सरकार गंभीर नहीं है यह दुर्भाग्यपूर्ण है: जिलाध्यक्ष

- मृत पीड़िता को इंसाफ के लिए स्वराज पार्टी ने निकाला कैंडल मार्च।

युवा शक्ति संवाददाता

---------------------

गया।विगत दिन डोभी प्रखंड के करपुरी नगर के 14 वर्षीय बच्ची के साथ हुए हैवानियत के ख़िलाफ़ स्वराज पार्टी के कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को कैंडल मार्च निकाला। कैंडल मार्च में स्वराज पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने डोभी के चतरा मोड़ से लेकर डोभी मोड़ तक पदल मार्च किया।

स्वराज पार्टी के अति पिछड़ा प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष संतोष ठाकुर ने बताया कि डोभी के कर्पूरी नगर निवासी अखिलेश ठाकुर के 14 वर्षीय पुत्री घर पर अकेली थी। अकेला देख कर कर्पूरी नगर निवासी अर्जुन दास के 35 वर्षीय पुत्र राजेश दास ने जबरन उसके साथ रेप किया। जो वह मासूम अपने इज्जत को लूट जाने को लेकर खुद पर किरोसीन छिट कर आग लगा ली। जिसमें वह पूरी तरह झुलस गई।  


जब उसकी मां घर पहुंची तो किसी प्रकार उसे डोभी अस्पताल लाई वहां से बेहतर इलाज के लिए गया भेज दिया गया।जंहा इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। परिजनों ने थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। लेकिन प्रशासन द्वारा अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया न हीं इसमें किसी की गिरफ्तारी की गई है।वही कैंडल मार्च में पहुंचे स्वराज पार्टी के जिलाध्यक्ष शंभू नाथ यादव ने कहा कि एक तरफ बिहार के मुख्यमंत्री जी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देते हैं तो वहीं दूसरी तरफ इस तरह के हैवानियत पर भी सरकार गंभीर नहीं है यह दुर्भाग्यपूर्ण है। 

स्वराज पार्टी के युवा नेता दीपक कुमार दांगी डोभी थाना के क्रियाकलाप पर सवाल उठाते हुए कहा कि वह मामले की शिकायत वरीय पदाधिकारी से करेंगे और अगर जरूरत पड़ी तो मृतक को इंसाफ दिलाने के लिए जिलाव्यापी आंदोलन करेंगे। इस कैंडल मार्च में रवि यादव, राकेश ठाकुर मनीष ठाकुर सुरजदेव शास्त्री, अनूप, अरविंद, महेंद्र ठाकुर ,विक्की एवं सैंकड़ों कार्यकर्ता शामिल हुए।