सहायक उर्दू अनुवादक की प्रारंभिक परीक्षा होगी आयोजित, कुल 12,580 परीक्षार्थी होंगे शामिल


डीडीसी की अध्यक्षता में प्रतिनियुक्त दंडाधिकारीयों के साथ ब्रीफिंग जिला परिषद सभागार में शुक्रवार को की गई।

युवा शक्ति संवाददाता

गया। बिहार कर्मचारी चयन आयोग, पटना द्वारा आयोजित होने वाली सहायक उर्दू अनुवादक की प्रारंभिक परीक्षा आगामी 28 फरवरी यानी रविवार को एक पाली में आयोजित की जाएगी। इस परीक्षा को स्वच्छ एवं कदाचार मुक्त वातावरण में संचालन तथा शांति एवं विधि व्यवस्था संधारण हेतु उप-विकास आयुक्त की अध्यक्षता में प्रतिनियुक्त दंडाधिकारीयों के साथ ब्रीफिंग जिला परिषद सभागार में शुक्रवार को की गई।डीएम अभिषेक सिंह तथा एसएसपी आदित्य कुमार  द्वारा जारी संयुक्त आदेश के अनुसार यह परीक्षा पूर्वाहन 10:00 बजे से 11:30 बजे तक जिले के 15 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित की जाएगी, जिसमें कुल 12,580 परीक्षार्थी शामिल होंगे।

इस परीक्षा को सफलतापूर्वक, कदाचार मुक्त वातावरण में संचालित करने हेतु 15 स्टैटिक दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है। महिला परीक्षार्थियों की फ्रिस्किंग हेतु महिला दंडाधिकारी/पर्यवेक्षक एवं महिला पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति सभी परीक्षा केंद्रों पर की गई है।परीक्षा को स्वच्छ एवं कदाचार रहित वातावरण में संचालन हेतु 58 केन्द्र प्रेक्षकों प्रतिनियुक्ति की गई है, जो बिहार कर्मचारी चयन आयोग के प्रतिनिधि के रूप में कार्य करेंगे। केंद्र प्रेक्षक अपने आवंटित परीक्षा केंद्र पर परीक्षा को शांतिपूर्ण, निष्पक्ष एवं बाधारहित परीक्षा संचालन सुनिश्चित करेंगे। केंद्र प्रेक्षक अपने आवंटित केंद्रों पर परीक्षार्थियों के एडमिट कार्ड पर छपे फ़ोटो से चेहरे का मिलान भलीभांति कर लेंगे।

उपरोक्त परीक्षा में 5 जोनल दण्डाधिकारी तथा पुलिस पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई है। इसके साथ ही 4 उड़नदस्ता टीम की प्रतिनियुक्ति की गई, जिसमें सुनील कुमार, जिला पंचायत राज पदाधिकारी, नरेश झा,अपर समाहर्ता लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, संतोष कुमार श्रीवास्तव, अपर समाहर्ता विभागीय जांच तथा संतोष कुमार, निदेशक डीआरडीए शामिल है।


इस प्रकार इस परीक्षा में स्टैटिक दंडाधिकारी, जोनल दंडाधिकारी, उड़नदस्ता टीम, केंद्र प्रेक्षक की प्रतिनियुक्ति की गई ताकि परीक्षा में किसी प्रकार की कदाचार की  गुंजाइश न हो और परीक्षा कदाचार रहित वातावरण में संपन्न हो सके।

सभी परीक्षा केंद्रों पर जैमर की व्यवस्था की गई है ताकि परीक्षा केंद्र के हर कमरे, बाथरूम इत्यादि के नेटवर्क जाम रहे और कोई नेटवर्क काम न कर सके। इस परीक्षा में परीक्षार्थियों को मोबाइल फ़ोन, पेजर, ब्लूटूथ, स्मार्ट फ़ोन, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, घड़ी, कैलक्युलेटर , व्यतिगत पेन इत्यादि पेक्षा हॉल में लाने पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाया गया है। परीक्षार्थियों की बायोमेट्रिक उपस्थिति बनाई जाएगी।अपर समाहर्ता मनोज कुमार को इस परीक्षा का नोडल पदाधिकारी बनाया गया है।

जिला स्तर पर एक नियंत्रण कक्ष की स्थापना की गई है, जिसका दूरभाष संख्या 0631-2222253 है। जिसके प्रभार में दुर्गेश नंदिनी, वरीय उप-समाहर्ता, गया रहेंगे। इसके अतिरिक्त पांच अन्य पदाधिकारी की प्रतिनियुक्ति की गई जो इस प्रकार है।

मुकेश कुमार, प्रखंड कल्याण पदाधिकारी, बोधगया मोबाइल नंबर- 82714 02507, रविकांत कुमार, प्रखंड कल्याण पदाधिकारी, फतेहपुर मोबाइल नंबर-94180 40125, रविंद्र कुमार दास, प्रखंड कल्याण पदाधिकारी, नगर मोबाइल नंबर-94316 62839 हुरैन सबा, तकनीकी सहायक, बेलागंज 
मोबाइल नंबर-7905177227 तथा श्रुति राज, तकनीकी सहायक, सदर नंबर- 7979856603 है।

परीक्षा की गरिमा को बनाए रखने, भीड़भाड़  को सीमित करने, शांति व्यवस्था एवं विधि व्यवस्था के संधारण हेतु सभी परीक्षा केंद्रों के आसपास 200 मीटर की दूरी तक धारा-144 के अंतर्गत निशेषाज्ञा लागू करने का निर्देश अनुमण्डल पदाधिकारी को दिया गया।