राकेश सिंह ने साजिश के तहत मुझे फंसाया: पामेला गोस्वामी

 


कोलकाताः इन दिनों बंगाल की राजनीति में भाजपा युवा मोर्चा की नेत्री पामेला गोस्वामी की गूंज खूब सुनाई दे रही है। कोलकाता के न्यू अलीपुर थाना इलाके में शुक्रवार को 10 लाख की कोकीन के साथ पकड़ी गई पामेला की गिरफ्तारी के बाद बंगाल बीजेपी अब बैकफुट पर आ गई है और विपक्षी पार्टी पर ताबड़तोड़ हमला कर रही है।

कोकीन के साथ गिरफ्तारी के बाद पामेला को शनिवार को कोलकाता की एक अदालत में पेशी हुई। अदालत में पेशी से पहले पामेला ने दावा किया कि उन्हें किसी और ने नहीं बल्कि भारतीय जनता पार्टी के नेता कैलाश विजयवर्गीय के सहयोगी राकेश सिंह फंसाया है। साथ ही गोस्वामी ने पूरी घटना की सीआईडी जांच की मांग की है। लोकसभा चुनाव से पहले राकेश सिंह कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। न्यू अलीपुर पर और आसपास के क्षेत्रों में उनका दबदबा है ।

हालांकि, राकेश सिंह का कहना है कि इस मामले से उनका कोई लेना-देना नहीं है। यदि वह इस केस में दोषी साबित होते हैं तो वह राजनीति छोड़ देंगे। उनका तो पिछले दो साल से पामेला के साथ कोई संपर्क नहीं है। यह तो टीएमसी की साजिश बीजेपी को बदनाम करने की है। पुलिस को इस मामले की गहराई से जांच करनी चाहिए।

इससे पहले पुलिस अधिकारियों ने कहा कि भारतीय जनता युवा मोर्चा महासचिव पामेला को एक सहयोगी प्रबीर कुमार डे के साथ गिरफ्तार किया गया। जब वे कार में जा रहे थे। पुलिस अधिकारियों ने कहा कि एक गुप्त सूचना पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने कार को रोक दिया और लगभग 100 ग्राम कोकीन उनके हैंडबैग में मिला। ड्रग्स का अनुमानित बाजार मूल्य लगभग 10 लाख रुपये के आसपास है।

पुलिस द्वारा हिरासत में लेने पर पामेला ने चिल्लाते हुए कहा कि उन्हें फंसाया जा रहा है। पामेला के एक निजी सुरक्षा गार्ड को भी हिरासत में लिया गया है, क्योंकि वह भी बीजेपी की नेता के साथ था। पुलिस ने कहा कि चूंकि जांच शुरुआती चरण में है, इसलिए फिलहाल इस बारे में ज्यादा खुलासा नहीं किया जा सकता है।

बीजेपी सांसद लॉकेट चटर्जी और पार्टी के प्रवक्ता समिक भट्टाचार्जी ने कहा कि फिलहाल वे इस घटना से अनजान थे। चटर्जी ने मीडिया से कहा कि पामेला एक युवा लड़की है। उसे टीएमसी की अगुवाई वाली सरकारी पुलिस की ओर से फंसाया जा सकता है। कानून अपना काम करेगा।

टीएमसी नेता और मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य ने कहा कि यह शर्म की बात है कि बीजेपी की महिला नेता भी नशे से संबंधित गैरकानूनी कामों में लिप्त पाई जा रही हैं। भट्टाचार्य ने दावा किया कि इससे पहले, हमने बाल तस्करी में कई बीजेपी नेताओं की भागीदारी देखी है।

वहीं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने  कोलकाता में कोकीन के साथ पकड़ी गई भाजपा युवा मोर्चा की नेत्री पामेला गोस्वामी को फर्जी मामले में फंसाने का आरोप लगाया है।  शनिवार सुबह सुभाष सरोवर के पास मॉर्निंग वॉक के समय उन्होंने दावा किया है कि भाजपा नेत्री को पुलिस फर्जी मामले में फंसाने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि आवश्यकता पड़ने पर पुलिस के खिलाफ आंदोलन किया जाएगा। घोष ने कहा इसके पहले भी भाजपा नेताओं को फर्जी मामले में फंसाने की कोशिश हुई है और पामेला के साथ भी इसी तरह की साजिश रची गई है। इसकी निष्पक्ष  जांच होनी चाहिए।  हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि अगर वह दोषी प्रमाणित होती हैं तो कानून अपना काम जरूर करेगा लेकिन अगर गलत मामले में फंसाया गया है तो भाजपा इसका विरोध करेगी। 

मॉडल-अभिनेत्री पामेला गोस्वामी कुछ टॉलीवुड अभिनेत्री के साथ जुलाई 2019 में भाजपा में शामिल हुई थीं। पिछले साल उन्हें बीजेवाईएम का महासचिव नियुक्त किया गया था।