दुनियाभर में कोरोना से हुई मौतों का आंकड़ा 22 लाख के पार, एक वर्ष बाद सफलता की तरफ भारत

पूरी दुनिया को कोरोना वायरस की महामारी से लड़ते हुए एक वर्ष से अधिक हो गया है। इसके बाद भी अभी तक कोई देश इस हालत में नहीं है कि खुद को इससे पूरी तरह से मुक्‍त बता सके। इस दौरान पूरी दुनिया में इस वायरस के संक्रमण की चपेट में आकर मरने वालों का आंकड़ा भी अब 22 लाख के पार जा पहुंचा है। रॉयटर्स के आंकड़ों के मुताबिक वर्तमान में कोरोना संक्रमण में आने वालों की संख्‍या जहां 102301217 हो गई है वहीं इससे मरने वालों की संख्‍या 2211549 तक जा पहुंची है। इसके अलावा 65657391 मरीज ठीक भी हुए हैं।

अमेरिका और ब्राजील को मुहैया करवाई भारत ने दवा

कोरोना से हुई मौतों के मामले में यदि टॉप-10 देशों की बात की जाए तो इसमें सबसे ऊपर अमेरिका है। आपको बता दें कि अमेरिका न सिर्फ मौतों के मामले में ही सबसे ऊपर है बल्कि काफी लंबे समय से संक्रमण के मामले में भी अमेरिका विश्‍व के देशों में सबसे ऊपर बना हुआ है। यहां पर इसके अब तक 25,995,475 मामले सामने आ चुके हैं ज‍बकि 437,107 मरीजों की मौत भी हुई है। वहीं 11,536,651 मरीज अब तक ठीक हुए हैं। इसके बाद मौतों के मामले में दूसरे नंबर पर ब्राजील है जहां पर अब तक 222666 मरीजों की मौत इसकी चपेट में आने से हो चुकी है। यहां पर इसके कुल मामलों की बात करें तो ये 9,118,513 तक पहुंच गए हैं और 7,960,643 मरीज ठीक भी हुए हैं। आपको यहां पर ये भी बताना जरूरी होगा कि भारत ने ब्राजील को न सिर्फ देश में बनी कोरोना की वैक्‍सीन उपलब्‍ध करवाई है बल्कि इससे पहले उसकी मांग पर हाइड्रोक्‍सीक्‍लोरोक्‍वीन भी उपलब्‍ध करवाई थी। ये दवा अमेरिका के पूर्व राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की अपील पर उन्‍हें भी मुहैया करवाई गई थी। कोरोना से हुई मौतों के मामले में मैक्सिको है। यहां पर अब तक 156,579 मरीजों की मौत हो चुकी है जबकि 1,390,956 मरीज ठीक हुए हैं। यहां पर इसके अब तक 1,841,893 मामले सामने आ चुके हैं।

लगातार सफलता की तरफ बढ़ रहा भारत

इस लिस्‍ट में चौथे नंबर पर भारत है। यहां पर अब तक कोरोना के कुल 10,733,131 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 154,147 मरीजों की मौत भी हो चुकी है। इसके अलावा 10,409,160 मरीज ठीक भी हुए हैं। गौरतलब है कि भारत ने अपने यहां पर बीते कुछ माह से इस वायरस के संक्रमण की रफ्तार को बढ़ने से काफी हद तक कम करने में सफलता हासिल की है। भारत में कोरोना वायरस का पहला मामला 30 जनवरी 2020 को केरल में सामने आया था। इसी दिन दुनिया के कई देशों में इसका पहला मामला रिकॉर्ड किया गया था। सितंबर 2020 में भारत में एक ही दिन में सर्वाधिक मामले सामने आए थे जबकि आठ सितंबर को एक ही दिन में सबसे अधिक मौतें रिकॉर्ड की गई थीं। अक्‍टूबर में पहली बार ठीक होने वालों की संख्‍या नए मामलों के पार पहुंची थी। 28 जनवरी 2021 को देश में हुई मौत का साप्‍ताहिक औसत सबसे कम 140 रहा था। आपको यहां पर ये भी बता दें कि बीते एक सप्‍ताह के दौरान 18 राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों में प्रतिदिन मौत के औसत मामले एक या इससे कम रहा है।

ब्रिटेन में ठीक होने वालों की संख्‍या बेहद कम

कोरोना से हुई मौतों के मामले में पांचवें नंबर पर ब्रिटेन आता है। यहां पर अब तक 105,571 मरीजों की मौत हो चुकी है। यहां पर अब तक इसके 3796088 मामले सामने आ चुके हैं जबकि ठीक होने वालों की संख्‍या महज 344 है। इसके बाद छठे नंबर पर इटली है जहां कोरोना की वजह से अब तक 88,279 मरीजों की जान जा चुकी है जबकि 1,990,152 मरीज ठीक भी हुए हैं। यहां पर कुल मामलों की संख्‍या 2,541,783 है। सातवें नंबर पर फ्रांस है यहां पर अब तक इसके कुल 3,177,879 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 75,862 मरीजों की मौत हो चुकी है। यहां पर 224,120 मरीज ठीक भी हुए हैं। आठवें नंबर पर रूस है, जहां अब तक 3,832,080 मामले सामने आ चुके हैं और 72,697 मरीजों की मौत भी हो चुकी है और 3,279,964 मरीज ठीक हुए हैं। नौवें नंबर पर इस लिस्‍ट में स्‍पेन का नाम है जहां पर अब तक इसकी वजह से 58,319 मौतें हो चुकी हैं और अब तक सामने आने वाले कुल मामलों की संख्‍या 2,743,119 तक जा पहुंची है और 150,376 मरीज ठीक हुए हैं। अंत में इस लिस्‍ट में ईरान का नाम है जहां पर अब तक सामने आए मामलों की संख्‍या 1,411,731 है और मौतों की संख्‍या 57,889 हो गई है। यहां पर 1,202,893 मरीज ठीक हुए हैं।

ADVERTISEMENT